Now Reading
Exclusive: बजट होटल स्टार्टअप Treebo को मिली मीडिया दिग्गज Bennett Coleman & Co. से $458,000 की फंडिंग

Exclusive: बजट होटल स्टार्टअप Treebo को मिली मीडिया दिग्गज Bennett Coleman & Co. से $458,000 की फंडिंग

भारत का बजट होटल सेगमेंट काफी तेजी से बढ़ रहा है, और इसमें मौजूद ख़िलाड़ी भी। जी हाँ! हम बात कर रहें हैं, Softbank समर्थित OYO, Treebo और FabHotel जैसे ब्रांड्स के बारे में, जो इस क्षेत्र में तेजी से बढ़ रहें हैं।

वैसे इस क्षेत्र में हो रही बढ़त और प्रतिद्वंदिता के पीछे निवेशकों का एक अहम रोल है। और एक बार फ़िर से इस बात को साबित करते हुए Treebo ने कथित तौर पर मीडिया दिग्गज Bennett Coleman and Co Limited (BCCL) से नई फंडिंग हासिल की है।

लेकिन आपको बता दें कंपनी ने अब तक इस बात की पुष्टि नहीं की है। लेकिन कंपनी फाइलिंग (Paper.vc के जरिये) यह सामने आया है कि BCCL ने ऐड-फॉर-इक्विटी सौदे के तहत Treebo में लगभग $458,000 का निवेश किया है।

दरसल इस डील के तहत Treebo अपनी कंपनी की इक्विटी के बदले BCCL की प्रमुख संपत्तियों में व्यापक विज्ञापन (ऐड) स्पेस हासिल कर पाएगी। आपको बता दें BCCL के लिए यह ऐड-फॉर-इक्विटी मॉडल के तहत किया गया निवेश कोई नया नहीं है, कंपनी इसके पहले भी कई अन्य स्टार्टअप्स के साथ ऐसे सौदे कर उनमें इक्विटी हासिल कर चुकी है।

वहीँ एक अन्य नियामक फाइलिंग के अनुसार, Treebo ने एक इक्विटी शेयर का मूल्य 1,55,741 रूपये/इक्विटी और अन्य पांच शेयर वारंट का मूल्य 65 लाख रूपये/शेयर वारंट के साथ आवंटित किया है। इसके साथ ही कंपनी के बोर्ड ने प्राइवेट प्लेसमेंट प्रस्ताव को भी मंजूरी दे दी है।

आपको बता दें इस सौदे के बाद BCCL अब Treebo में लगभग 5.58% शेयरों की हिस्सेदारी रखेगा। वहीँ Treebo के मौजूदा निवेशकों में Matrix और SAIF भी शुमार हैं, और दोनों प्रत्येक रूप से कंपनी में 19% के हिस्सेदार हैं। साथ ही कंपनी के संस्थापक सिद्धार्थ गुप्ता और राहुल चौधरी के पास प्रत्येक रूप से 13. 35% शेयर हैं।

जानकारी के लिए बता दें BCCL असल में Times of India की पैरेंट कंपनी है, जो दुनिया का सबसे बड़ा अंग्रेजी दैनिक न्यूज़ ब्रांड है। इसके साथ ही यह ग्रुप Huff Post जैसे ब्रांड्स पर भी मालिकाना हक़ रखता है। इसके साथ ही यह ग्रुप खुद के रेडियो चैनल भी संचालित करता है।

जाहिर तौर पर Treebo को अब इन सभी माध्यमों में अपने विज्ञापनों के लिए व्यापक जगह मिल सकेगी।

See Also
uber-and-aaveg-gets-govt-nod-to-run-bus-service-in-delhi

दरसल बजट होटल सेगमेंट में बढ़ती प्रतिस्पर्धा और Softbank समर्थित OYO की मौजूदगी के बावजूद Treebo जैसी कंपनियों ने वित्त वर्ष 2019 में मामूली नुकसान के बीच अपने राजस्व में वृद्धि दर्ज की है।

Treebo ने वित्त वर्ष 2019 में 67.8 करोड़ रूपये के राजस्व के साथ इस आँकड़े में लगभग 64% की बढ़ोतरी दर्ज की है, यह आँकड़ा वित्त वर्ष 18 में 41.35 करोड़ रूपये था।

इस बीच आपको बता दें कंपनी लगभग $40 मिलियन के निवेश के लिए फ्रेंच होटल ब्रांड Accor SA के साथ कथित बातचीत के दौर में है। हालाँकि अब तक इस संभावित फंडिंग दौर के बारे में कोई आधिकारिक जानकारी मौजूद नहीं है।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.