Now Reading
Adani Group करेगा देश में ‘ई-कॉमर्स’ और ‘डिजिटल पेमेंट’ सेगमेंट में एंट्री – रिपोर्ट

Adani Group करेगा देश में ‘ई-कॉमर्स’ और ‘डिजिटल पेमेंट’ सेगमेंट में एंट्री – रिपोर्ट

  • भारत में गौतम अडानी के नेतृत्व वाली कंपनी का बड़ा कदम
  • शुरू करेगी डिजिटल पेमेंट और ई-कॉमर्स सेवाओं की पेशकश
adani-group-to-enter-indias-digital-payment-e-commerce-spaces

Adani Group To Enter India’s Digital Payment E-Commerce Spaces: हाल के दिनों में कई विवादों से घिरे नजर आने वाला अडानी ग्रुप एक बार फिर चर्चा में आ गया है। लेकिन इस बार वजह कुछ और है। सामने आ रही ख़बरों के अनुसार, गौतम अडानी के नेतृत्व वाली कंपनी जल्द ही भारत के ई-कॉमर्स से लेकर डिजिटल पेमेंट मार्केट में भी हाथ आजमाती नजर आ सकती है। कंपनी देश में व्यावसायिक लिहाज से इन नए क्षेत्रों में एंट्री करने के लिए संबंधित लाइसेंस हेतु जल्द आवदेन भी कर सकती है।

जी हाँ! इसका खुलासा ‘फाइनेंशियल टाइम्स’ की एक हालिया रिपोर्ट में के तहत हो सका है। रिपोर्ट की मानें तो अडानी ग्रुप भारत के पब्लिक डिजिटल पेमेंट नेटवर्क के क्षेत्र में काम करने के लिए लाइसेंस हेतु आवेदन करने पर विचार कर रहा है। इतना ही नहीं बल्कि कंपनी का इरादा को-ब्रांडेड क्रेडिट कार्ड पेश करने का भी है और इस प्लान को अंतिम रूप देने के लिए अडानी ग्रुप कुछ बैंकों के साथ बातचीत भी कर रहा है।

Adani Group To Enter India’s Digital Payment E-Commerce Spaces

अरबपति गौतम अडानी की यह कंपनी देश के यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) पेमेंट नेटवर्क सेगमेंट में एंट्री मारते हुए अपनी डिजिटल सेवाओं के विस्तार का मन बना रही है। लेकिन इसके साथ ही अडानी ग्रुप ई-कॉमर्स क्षेत्र में भी प्रवेश की कोशिशों में है।

न्यूज़North अब WhatsApp पर, सबसे तेज अपडेट्स पानें के लिए अभी जुड़ें!

ई-कॉमर्स सेवाओं की शुरुआत हेतु अडानी ग्रुप ONDC प्लेटफ़ॉर्म की मदद ले सकता है। ओपन नेटवर्क फॉर डिजिटल कॉमर्स (ओएनडीसी) एक केंद्र सरकार समर्थित प्लेटफॉर्म है, जिसे देश में ई-कॉमर्स की सुविधा के लिहाज से ही डिज़ाइन किया गया है। और अब इसी ओपन नेटवर्क फॉर डिजिटल कॉमर्स (ओएनडीसी) प्लेटफॉर्म के ज़रिए अडानी ग्रुप भी ऑनलाइन शॉपिंग जैसी सेवाओं की पेशकश करने की तैयारी में है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि यह तमाम कदम अडानी ग्रुप को अपने डिजिटल बिजनेस के विकास में मदद के लिए बनाई जा रही व्यापक रणनीति का हिस्सा है। अगर अडानी ग्रुप इसमें कामयाब रहता है तो यह Google और मुकेश अंबानी की Reliance और Tata Digital जैसे दिग्गज़ खिलाड़ियों के लिए भी एक कड़ा प्रतिद्वंदी साबित हो सकता है।

See Also
indigo-flight-landed-with-2-minutes-of-fuel-left

वैसे खबर यह है कि अडानी ग्रुप इन तमाम सेवाओं की पेशकश के लिए अपने कंज़्यूमर ऐप – Adani One का इस्तेमाल कर सकता है। इसी ऐप पर इन विभिन्न सुविधाओं की पेशकश की जा सकती है। आपको बता दें इस ऐप को साल 2022 के अंत में लॉन्च किया गया था और फिलहाल इसके तहत फ़्लाइट से लेकर होटल बुकिंग जैसी तमाम सेवाएं प्रदान की जाती हैं।

फिलहाल इस संबंध में कंपनी की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं दिए गए हैं। लेकिन डिजिटल पेमेंट वर्तमान समय में तमाम बड़े व्यवसायिक समूहों के लिए एक आकर्षक सेगमेंट बना हुआ है। देश में Google Pay, Paytm, PhonePe जैसी तमाम फिनटेक कंपनियाँ एक बड़ी बाजार। हिस्सेदारी रखती हैं।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.