Now Reading
Ola अब ऐप में Google Map की जगह खुद का मैप करेगी इस्तेमाल? जानें क्या है प्लान!

Ola अब ऐप में Google Map की जगह खुद का मैप करेगी इस्तेमाल? जानें क्या है प्लान!

  • Ola ने गूगल मैप को किया अलविदा.
  • Ola अब अपनी कंपनी द्वारा विकसित मैप Ola maps की लेगा सहायता.
vanguard-cuts-ola-valuation-to-2-billon

Ola said goodbye to Google Map: सफलता के रथ में सवार भारत की दिग्गज कैब कंपनी अपनी व्यवस्थों को बदलने और नए विचारों को अपनाने से पीछे नहीं हट रही है। मिली जानकारी के अनुसार बीते कुछ महीने पूर्व Microsoft एज्योर से साझेदारी तोड़ने के बाद अब भारतीय दिग्गज कंपनी ने Google map के साथ साझेदारी तोड़ने का फैसला लिया है।

आपकों बता दे, कंपनी ने अपनी ola टैक्सी में गूगल मैप का उपयोग करने के बजाय अपनी ही कंपनी द्वारा विकसित Ola maps का उपयोग करने का फैसला लिया है। Ola की ओर से लिए गए इस बड़े फैसले को लेकर कंपनी के को फाउंडर भावेश अग्रवाल ने कहा कि,

“पिछले महीने एज्योर (Azure) को अलविदा कहने के बाद अब Ola ने गूगल मैप्स (Google Maps) की बजाय कंपनी के द्वारा विकसित ओला मैप्स (Ola Maps) का ही इस्तेमाल करने का फैसला लिया है”।

सालाना 100 करोड़ की बचत

ओला ग्रुप (Ola group) के चेयरमैन भावीश अग्रवाल ने गूगल का साथ छोड़कर कंपनी द्वारा विकसित Ola maps के उपयोग के बाद कंपनी के लिए ₹100 करोड़ तक बचाए जाने की बात कही है। भावेश ने Ola maps को लेकर कहा कि, यह Ola maps पूर्णता भारत में विकसित है। इसके उपयोग से  कंपनी को ₹100 करोड़ बचाने में मदद मिलेगी, कंपनी Google map के उपयोग के लिए प्रतिवर्ष ₹100 करोड़ का भुगतान करती थी, अब यह खर्च जीरो हो जाएगा। कंपनी के फैसले के बाद Ola ड्राइवर अब गूगल मैप्स की बजाय ओला मैप्स का ही इस्तेमाल करेंगे।

माइक्रोसॉफ्ट एज्योर से भी दूरी

कंपनी ने तीन महीने पूर्व माइक्रोसॉफ्ट एज्योर को भी अलविदा कह दिया था, Ola Microsoft Azure के साथ मिलकर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) तकनीकी में सहायता लेता था, जिसे मई में कंपनी ने अलविदा कहते हुए, कंपनी द्वारा ही विकसित आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) प्लेटफॉर्म कृत्रिम (Krutrim) की सेवाओं का उपयोग करने की बात कही थी।

See Also
whatsapp-screen-sharing-feature

न्यूज़North अब WhatsApp पर, सबसे तेज अपडेट्स पानें के लिए अभी जुड़ें!

Microsoft Azure अलग होने के बाद भावीश अग्रवाल ने मई में ट्वीट किया था कि कोई भी डेवलपर, जो अजूर से अलग होकर काम करना चाहेगा, उसे हम एक साल की फ्री क्लाउड सर्विस उपलब्ध कराएंगे। कंपनी Microsoft Azure से अलग होने वालों का पूरा साथ देगी। जिसके बाद ओला के चेयरमैन भावीश अग्रवाल के इस बयान ने काफ़ी सुर्खिया (Ola said goodbye to Google Map)  बटोरी थी।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.