ऑफिस टाइम के बाद नहीं आ सकता बॉस का फोन, अब इस देश में भी आ रहा नियम, जानें यहाँ!

  • नए कानून में कुछ बातें जोड़कर कर्मचारियों के हितों की रक्षा की गई.
  • नए कानून में 'राइट टू डिस्कनेक्ट' का प्रावधान लागू किया जायेगा.
wakefit-announces-right-to-nap-policy

Boss’ call cannot come after office hours:ऑस्ट्रेलिया देश में एक कानून लागू करने जा रहा है, जिसके बाद ऑफिस में काम करने वाले कर्मचारियो के लिए काम करने का समय तय हो जायेगा, यादि उसके तय समय के बाद कंपनी प्रबंधन या बॉस उसे कॉल या ईमेल किसी भी माध्यम से कोई अतिरिक्त काम सौंपने की कोशिश करता है, तो वह उसे मना कर सकता है, इसके लिए उसकी मदद देश में लागू नया कानून करेगा।

दरअसल ऑस्ट्रेलिया में कर्मचारियों के हितों की रक्षा के लिए एक नया क़ानून बनाया गया है। नए कानून में ड्यूटी ख़त्म होने के बाद बॉस का फ़ोन उठाने की कोई ज़रूरत नहीं होगी, ऑफ़िस के बाद ऑफ़िस का कोई काम नहीं कराया जा सकेगा। अगर कोई कंपनी या प्रबंधन ऐसा करने के लिए मजबूर करती है, तो उनके ऊपर तगड़ा हर्ज़ाना लगाया जाएगा हालांकि अभी जुर्माने की राशि तय नहीं की गई है।

Boss’ call cannot come after office hours

विश्व भर में कनेक्टविटी के बढ़ते हुए साधन साथ ही कोविड़ 19 और वर्क फॉर होम कल्चर आने के बाद विभिन्न प्रकार से रोजगार उपलब्ध करवाने वाली कंपनियों के पास अपने कर्मचारियों से संपर्क करने का आसन तरीका मिला है, जिस वजह से कई बार प्रबंधक अपने कर्मचारियों से कभी भी संपर्क करते हुए काम सौंप देते है, जिससे कर्मचारियों को थकान, तनाव या चिंता बढ़ जाने की बात रिसर्च में सामने आई है।

इन्हीं सब नकारात्मक प्रभाव से कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए ऑस्ट्रेलिया में रोज़गार मंत्री टोनी बर्की ने इससे संबंधित एक बिल ड्राफ़्ट किया जो इसी सप्ताह ऑस्ट्रेलिया के संसद में पेश किया जाएगा।

See Also
russia-oil-ships-are-moving-away-from-india-amid-payment-issues

  • नए कानून में कुछ बातें जोड़कर कर्मचारियों के हितों की रक्षा की गई है, जिसमें ‘राइट टू डिस्कनेक्ट’ का प्रावधान लागू किया जायेगा इसका मतलब यादि आप अपना जॉब टाइम पूरा कर चुके हो तो आप प्रबंधक या बॉस का कॉल उठाने के लिए बाध्य नहीं होंगे। आप कॉल डिस्कनेक्ट कर सकते है।
  • कंपनी प्रबंधन या बॉस ऑफिस टाइम के अलावा अब कभी भी काम के संबंध में कर्मचारियों को फोन नही कर सकता।
  • नया कानून कर्मचारियों को काम और व्यक्तिगत जीवन के बीच की सीमाएं तय करने की छूट प्रदान करेगा ऐसे में यदि उसके अधिकार का हनन होता है, तो वह ‘ फेयर वर्क कमीशन’ के पास इसकी शिकायत कर सकता है।

न्यूज़North अब WhatsApp पर, सबसे तेज अपडेट्स पानें के लिए अभी जुड़ें!

ऑस्ट्रेलिया सरकार के इस फैसले को लेकर विपक्षी दलों के नेताओ ने भी स्वीकृति प्रदान की है हालांकि कुछ लोगों को यह मानना है, यह कानून लागू होने के बाद कंपनी प्रबंधन और बॉस अपने कर्मचारियों के साथ सामान्य कार्य घंटो के दौरान लचीली व्यवस्था का अनुसरण न करें।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.