Now Reading
Ola की वैल्यूएशन घटकर हुई $2 बिलियन से कम, Vanguard ने फिर की कटौती

Ola की वैल्यूएशन घटकर हुई $2 बिलियन से कम, Vanguard ने फिर की कटौती

  • Vanguard ने एक बार फिर कम की Ola की वैल्यूएशन
  • इस बार की गई कटौती के बाद हुई $1.88 बिलियन
vanguard-cuts-ola-valuation-to-2-billon

Vanguard cuts Ola valuation to $2 Billion: अमेरिका आधारित एसेट्स मैनेजमेंट कंपनी Vanguard ने एक बार फिर से भारतीय कैब सेवा प्रदाता दिग्गज Vanguard की वैल्यूएशन को घटा दिया है। कंपनी की वैल्यूएशन इस बार $2 बिलियन से भी कम आँकी गई है। गौर करने वाली बात ये है कि फरवरी 2023 के बाद से इस एसेट्स मैनेजमेंट कंपनी द्वारा Ola के वैल्यूएशन में की गई यह तीसरी कटौती है।

इसका खुलासा सबसे पहले Economics Times की एक हालिया रिपोर्ट के जरिए हुआ है। रिपोर्ट बताती है कि अमेरिकी प्रतिभूति और विनिमय आयोग में दायर नियामक फाइलिंग के मुताबिक, Vanguard ने 30 नवंबर, 2023 तक Ola पर मालिकाना हक रखने वाली कंपनी ANI Technologies के मूल्यांकन को $1.88 बिलियन तक ला लिया है।

Vanguard cuts Ola valuation

पिछले साल अगस्त में कंपनी का मूल्यांकन $2.65 बिलियन तक था। इससे तुलना करें तो वैल्यूएशन में 29% तक की कमी कही जा सकती है। दिलचस्प यह है कि साल 2021 में Ola ली वैल्यूएशन $7.3 बिलियन आँकी गई थी।

लेकिन पिछले साल फरवरी में ही Vanguard ने Ola में अपनी हिस्सेदारी के मूल्य में 35% की कटौती कर इसे $4.8 बिलियन तक ला दिया था। इसके बाद जुलाई में सामने आई जानकारी के अनुसार, हिस्सेदारी के मूल्य में कुल 52% की कमी करके यह $3.5 बिलियन ही रह गया था।

यह ऐसे समय में आया है जब Ola की पैरेंट कंपनी ने वित्त वर्ष 2022 में ₹1,970 करोड़ की तुलना में वित्त वर्ष 2023 में ₹2,799 करोड़ के साथ 42% तक की वृद्धि दर्ज की। इस बीच कंपनी ने वित्त वर्ष 2023 के लिए अपनेन घाटे को लगभग 50% तक कम करने में भी सफ़लता हासिल की।

गौर करने वाली बात ये भी है कि कुछ ही दिनों पहले कैब सेवा प्रदाता Ola Cabs ने यूनिलीवर (Unilever Plc) के पूर्व अधिकारी, हेमंत बख्शी को अपना मुख्य कार्यकारी अधिकारी यानी सीईओ नियुक्त किया है। इसे कंपनी के आईपीओ प्लान को पूरा करने की दिशा में इस एक बड़े कदम के तौर पर देखा गया।

वहीं खबर के अनुसार, कंपनी के संस्थापक भाविश अग्रवाल अभी भी Ola में सक्रिय भूमिका में बने रहेंगे। हाल के दिनों में Ola सहायक इकाई, Ola Electric भी ईवी क्षेत्र में तेजी से अपनी पैंठ बनाती दिखाई दी है। कंपनी के संस्थापक, भाविश अग्रवाल अब भारत के भीतर अपने इस दोपहिया ईवी वाहन व्यवसाय को भी व्यापक रूप से बढ़ाने की योजना बना रहे हैं।

क्या है इरादा

सामने आई मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नई पुनर्गठन योजना के तहत Ola केंद्रित प्रबंधन, सुव्यवस्थित संचालन और अधिक कुशलता हासिल करने के इरादे से तीन व्यावसायिक इकाइयों में पुनर्गठित हो रही है, जिसमें कैब सर्विस और मोबिलिटी, वित्तीय सेवा और लॉजिस्टिक्स व ई-कॉमर्स शामिल है।

See Also
govt-to-announce-national-creators-awards-for-gen-z

मोबिलिटी सेगमेंट के तहत कंपनी आगामी दिनों में प्रीमियमीकरण पर अधिक ध्यान केंद्रित करेगी। इसके साथ ही अपने स्वयं के वाहनों का उपयोग करके दोपहिया सेगमेंट में सस्ती सवारी की पेशकश करने जैसी भी योजना है। इसके साथ ही एक लॉयल्टी प्रोग्राम और लक्जरी कारों के अलावा मल्टी-सिटी प्राइम+ जैसी पेशकश का विस्तार भी किया जा सकता है।

वहीं वित्तीय सेवा क्षेत्र के लिहाज से Ola अपने लगभग 60 लाख मासिक सक्रिय उपयोगकर्ता के पेमेंट, उधार, वित्तपोषण और बीमा जैसे उत्पादों व सेवाओं को मैनेज करेगी। इसमें कंपनी बैंकों के साथ साझेदारी कर बेहतर बीमा और अनुभव प्रदान करने पर फ़ोकस करती नजर आएगी। वहीं तीसरे सेगमेंट यानी लॉजिस्टिक्स और ई-कॉमर्स के तहत कंपनी का मक़सद डिजिटल कॉमर्स के लिए सरकार समर्थित ओपन नेटवर्क ONDC से लाभ उठाने का है।

इसके साथ ही दिसंबर 2023 में भाविश अग्रवाल ने अपने नए प्रोजेक्ट Krutrim AI से पर्दा उठाया था जिसे भारत के खुद के आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) मॉडल के तौर पर लॉन्च किया था। Krutrim AI चैटबॉट को देश के ही स्थानीय डेटा, भाषाओं आदि द्वारा प्रशिक्षित किया गया है।

इसे ओला के सह-संस्थापक भाविश अग्रवाल के मालिकाना हक वाले एआई उद्यम Krutrim Si Designs के तहत पेश किया गया। Krutrim Si Designs को अप्रैल 2023 में ही भाविश अग्रवाल (Ola संस्थापक व सीईओ) और कृष्णमूर्ति वेणुगोपाला टेनेटी (Ola पैरेंट फर्म ANI Technologies के बोर्ड सदस्य) ने मिलकर शुरू किया था।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.