Now Reading
अयोध्या में रामलला के दर्शन के लिए ट्रस्ट ने जारी की समय सारिणी, जाने यहां!

अयोध्या में रामलला के दर्शन के लिए ट्रस्ट ने जारी की समय सारिणी, जाने यहां!

  • राम जन्मभूमि मंदिर ट्रस्ट ने आगंतुकों के लिए राम मंदिर में मूर्ति दर्शन और आरती की समय सारिणी की जानकारी साझा की.
  • राम लला के भक्त सात बजे से भक्त दर्शन कर सकेंगे.
ayodhya-ram-mandir-darshan-for-general-public-timing-arti-pass-details

Trust time table for darshan of Ramlala:अयोध्या नगरी में राम लला विराजमान हो चुके है, जिसे देखने दुनिया के विभिन्न देशों सहित देश के कई हिस्सों से श्रद्धालु अयोध्या पहुंच रहे है। अब इन सभी दर्शनार्थियों के लिए राम जन्मभूमि मंदिर ट्रस्ट बेहतर व्यवस्था मुहैया कराने के लिए काफ़ी मेहनत कर रहा है।

इसी क्रम में अब राम जन्मभूमि मंदिर ट्रस्ट ने आगंतुकों के लिए राम मंदिर में मूर्ति दर्शन और आरती की समय सारिणी की जानकारी साझा किया है। प्राण प्रतिष्ठा के बाद से ही अनियंत्रित भीड़ को देखते हुए ट्रस्ट ने मंदिर दर्शन से लेकर आरती के सभी प्रारूपों की समय सारिणी जारी किया है। जिसमें रामलला की होने वाली समस्त पूजन आरती भोग विधि के समय का जिक्र किया गया है।

मीडिया से चर्चा में विश्व हिंदू परिषद के प्रांत प्रवक्ता और मीडिया प्रभारी शरद शर्मा ने कहा, श्रीराम लला की श्रृंगार आरती तड़के साढ़े चार बजे से शुरू होगी वही मंगला आरती सुबह साढ़े छह बजे की जायेगी।

इसके बाद भक्त सात बजे से भक्त दर्शन कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि भगवान राम की भोग आरती दोपहर बारह बजे होगी, इसके बाद संध्या आरती शाम साढ़े सात बजे, भोग आरती के बाद राम लला की शयन आरती रात 10 बजे की जायेगी।

Trust time table for darshan of Ramlala

आपको बता दे,राम जन्मभूमि मंदिर ट्रस्ट को मंदिर परिसर में 1से डेढ़ लाख लोगों के प्रतिदिन पहुंचने का अनुमान था परंतु प्राण प्रतिष्ठा के बाद ही पहले दिन 5 लाख से अधिक संख्या में लोग राममंदिर में दर्शन करने पहुंच गए।

इसके बाद मंदिर में अव्यवस्था पैदा हो गई थी। राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंदिर परिसर और अयोध्या पहुंचने वाले लोगों की सुरक्षा के लिए व्यवस्थाओं को चाक चौबंद करने के आदेश देते हुए भीड़ से निपटने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल तैनात करने के लिए आदेश दिया था।

राम नवमी को लेकर चिंता

मीडिया में यह बात निकलकर आई कि राम जन्मभूमि ट्रस्ट अयोध्या में भव्य प्राण प्रतिष्ठा समारोह के बाद आने वाले दर्शको को लेकर अभी से काफ़ी चिंतित है, पहले ही दिन 5 लाख से अधिक संख्या में भक्तो के आने के बाद मंदिर परिसर सहित अयोध्या में अव्यवस्था पैदा हो गई थी ऐसे में सबसे बड़ी चुनौती राम नवमी के दिन रह सकती है।

See Also
rajasthan-students-protest-suspension-of-3-teachers

राम नवमी को पहले ही अयोध्या में भक्तो की संख्या बहुत अधिक होती है ऐसे में जब नया मंदिर और सुंदर मूर्ति के दर्शन के लिए लोगों की संख्या में और अधिक इज़ाफ़ा हो सकता है।

न्यूज़North अब WhatsApp पर, सबसे तेज अपडेट्स पानें के लिए अभी जुड़ें!

गौरतलब है, प्रधान मंत्री मोदी ने भी अपनी सरकार में सभी केंद्रीय मंत्रियों से अयोध्या न जाने की अपील की थी, प्रधानमंत्री मोदी ने केंद्रीय मंत्रियों को सुझाव दिया कि उन्हें मार्च में अपनी अयोध्या यात्रा की योजना बनानी चाहिए, प्रधान मंत्री मोदी के इस अपील के पीछे अयोध्या में भारी भीड़ और प्रोटोकॉल वाले वीआईपी की वजह से जनता को होने वाली असुविधा को लेकर चिंता जाहिर की थी।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.