Now Reading
Instagram पर बिक रही ड्रग्स, UPI से पेमेंट कर होती है डिलीवरी, महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम का बयान

Instagram पर बिक रही ड्रग्स, UPI से पेमेंट कर होती है डिलीवरी, महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम का बयान

  • इंस्टाग्राम मादक पदार्थ की खरीद-बिक्री के बाजार के रूप में उभरा है-देवेंद्र फडणवीस
  • मादक पदार्थ के व्यापार पर अंकुश लगाने के लिए कूरियर कार्यालयों में आधुनिक प्रौद्योगिक की मदद से औचक जांच की जा रही है-देवेंद्र फडणवीस
Drugs Being Sold On Instagram

Drugs Being Sold On Instagram: नशे की डिजिटल दुकान, ऐसे ही कुछ मामले हाल फिलहाल देश के सामने आए है, जिसे लेकर राज्य के एक उपमुख्यमंत्री ने विधानसभा (विधानमंडल) में इसको लेकर चिंता व्यक्त किया है। उपमुख्यमंत्री ने विधानमंडल में चिंता जाहिर करते हुए इंस्टाग्राम और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉम के जरिए नशे के फैलते व्यापार को लेकर कार्रवाई की बात कही है।

दरअसल पूरा मामला देश के सबसे अधिक धनी राज्यों में से एक महाराष्ट्र का है, जहां राज्य के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने विधानमंडल में राज्य मे नशीले पदार्थों को बेचने के लिए सोशल मीडिया प्लेट फार्म की भूमिका के सवाल में चिंता जाहिर की।

न्यूज़North अब WhatsApp पर, सबसे तेज अपडेट्स पानें के लिए अभी जुड़ें!

विधानमंडल में चर्चा के दौरान राज्य के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा, कि ये सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म अवैध वस्तुओं की ब्रिकी के बाजार में तब्दील हो गया है।

इंस्टाग्राम मादक पदार्थ की खरीद-बिक्री के बाजार के रूप में उभरा

देवेंद्र फडणवीस ने विधान मंडल में बताया कि डार्क नेट के माध्यम से भी मादक पदार्थ बेचे जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इंस्टाग्राम मादक पदार्थ की खरीद-बिक्री के बाजार के रूप में उभरा है, जहां ऑर्डर दिए जा रहे हैं, भुगतान जी-पे और यूपीआई के माध्यम से किया जा रहा है और उनकी आपूर्ति की जा रही है।

सरकार इस मामले में नज़र बनाए हुए है,जल्द ही इस संबंध में निर्णायक कदम उठाए जाएंगे साथ ही सरकार के इस मामले से संबंधित विभाग की ओर से की जा रही कार्रवाई के बारे में जानकारी विधानमंडल प्रस्तुत की गई।

See Also
Jackie Shroff petition in Delhi High Court

राज्य के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Drugs sold Instagram) ने इस मामले को लेकर विधानमंडल में बताया इस मामले को लेकर कूरियर कंपनियों से पार्सल की जांच करने की अपील की गई है और मादक पदार्थ के व्यापार पर अंकुश लगाने के लिए कूरियर कार्यालयों में आधुनिक प्रौद्योगिक की मदद से औचक जांच की जा रही है।

आपको बता दे, देश में कई जगहों से ऐसे मामले समय- समय में उजागर होते रहे है, जिसमें सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का उपयोग गैर कानूनी गतिविधियों में किया गया है।

यूपी की राजधानी लखनऊ में भी इसी प्रकार का मामला प्रकाश में आया था

ऐसा ही एक मामला यूपी की राजधानी लखनऊ से प्रकाश में आया था जब एक इंस्ट्रग्राम रील के माध्यम से एक बड़े ड्रग तस्कर गिरोह को एसटीएफ ने गोमतीनगर के एसवीजी गेस्ट हाउस से एक महिला सहित 4 लोगों को गिरफ्तार किया था। जानकारी के बाद निकलकर आया था उक्त सभी आरोपी मोबाइल ऐप के माध्यम से विदेशी नशीले पदार्थ तस्करों के संपर्क में आए थे।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.