Now Reading
CBSE का बड़ा ऐलान, बोर्ड परीक्षाओं में नहीं मिलेंगे ‘डिवीजन’ और ‘डिस्टिंक्शन’

CBSE का बड़ा ऐलान, बोर्ड परीक्षाओं में नहीं मिलेंगे ‘डिवीजन’ और ‘डिस्टिंक्शन’

  • सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन ने जारी किया नोटिस, अब से बोर्ड परीक्षाओं में नहीं दिए जाएँगे ओवरऑल डिवीजन या डिस्टिंक्शन
  • छात्र के संबंधित स्कूल या संस्थान करेंगे'बेस्ट 5 सब्जेक्ट' का फैसला 
cbse-will-not-award-division-or-distinction-in-board-exams

CBSE Will Not Award Division or Distinction In Board Exams: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने आज 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को लेकर एक बड़ा ऐलान किया है। बोर्ड की ओर से नियमों में कुछ अहम बदलावों की घोषणा की गई है।  एक ऐसे समय में जब देश भर के लाखों छात्र बेसब्री से अपनी बोर्ड परीक्षाओं के ‘टाइम टेबल’ का इंतजार कर रहे हैं, यह नए नियम और दिलचस्प हो जाते हैं।

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की ओर से शुक्रवार को यह जानकारी दी गई कि बोर्ड द्वारा आयोजित कक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं में अब ओवरऑल डिवीजन या डिस्टिंक्शन नहीं दिया जाएगा। बता दें इस निर्णय की घोषणा सीबीएसई परीक्षा नियंत्रक संयम भारद्वाज द्वारा एक आधिकारिक विज्ञप्ति में की गई।

CBSE New Rule: No Division or Distinction In Board Exams

बेस्ट फाइव सब्जेक्ट का स्कूल करेंगे फैसला 

CBSE के परीक्षा नियंत्रक द्वारा जारी आधिकारिक आदेश में यह भी बताया गया कि अगर किसी स्टूडेंट ने 5 से अधिक विषयों के पेपर दिए हैं, तो उसके सर्वोत्तम 5 विषयों (बेस्ट फाइव सब्जेक्ट) तय करने का फैसला छात्र के संबंधित स्कूल या संस्थान द्वारा लिया जाएगा।

उच्च संस्थान या नियोक्ता खुद करें कैलकुलेशन

साथ ही सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) की ओर से जारी किए गए नोटिस में परसेंटेज कैलकुलेशन का तरीके का भी जिक्र है। यह साफ किया गया कि सीबीएसई बोर्ड की ओर से 10वीं या 12वीं बोर्ड परीक्षाओं में प्राप्त अंक प्रतिशत की गणना नहीं की जाती है, ना ही बोर्ड उसकी घोषणा या सूचना देता है।

ऐसे में अगर उच्च शिक्षा या रोजगार के लिए अंक प्रतिशत आवश्यक होती है तो छात्र को प्रवेश देने वाले संस्थान या नियोक्ता को खुद से ही अंक प्रतिशत की गणना करनी होगी। याद दिला दें, सीबीएसई ने स्वस्थ प्रतिस्पर्धा माहौल को तैयार करने के मकसद से मेरिट लिस्ट रिलीज करना भी पहले से ही बंद कर रखा है।

See Also
indian-got-launches-neat-3-0-to-provide-best-developed-edtech-solution

न्यूज़North अब WhatsApp पर, सबसे तेज अपडेट्स पानें के लिए अभी जुड़ें!

यह अधिसूचना असल में तब जारी की गई है जब सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) को अंक प्रतिशत की गणना से संबंधित मानदंड बताने के लिए कई छात्रों की ओर से अनुरोध प्राप्त हुए थे।

CBSE Board Exam Timetable

इस बीच बताते चलें कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) भारत और विदेश में अपने सभी संबद्ध स्कूलों में 2023-24 शैक्षणिक सत्र के लिए 1 जनवरी 2024 से कक्षा 10 और कक्षा 12 की प्रैक्टिकल परीक्षा, प्रोजेक्ट वर्क और आंतरिक मूल्यांकन आयोजित करने जा रहा है। वहीं सीबीएसई की ओर से थ्योरी परीक्षा का आयोजन 15 फरवरी, 2024 से किया जाना है, जिसकी पूरी डेटशीट या टाइम टेबल अभी जारी नहीं किया गया है।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.