Now Reading
भारत में फिर बढ़ी Google की मुश्किलें, CCI ने दिए जाँच के आदेश: रिपोर्ट

भारत में फिर बढ़ी Google की मुश्किलें, CCI ने दिए जाँच के आदेश: रिपोर्ट

google-layoffs-2023-company-cuts-dozens-of-jobs-in-news-division

CCI probes Google India again?: भारत में फिलहाल टेक दिग्गज गूगल (Google) की मुश्किलें कम होती नजर नहीं आ रही हैं। कंपनी विभिन्न कारणों के चलते लगातार जाँच के घेरे में बनी हुई है। और इस बार कंपनी पर अपने “इन-ऐप पेमेंट सिस्टम” या कहें तो “यूजर च्वॉइस बिलिंग” (UCB) सिस्टम का दुरुपयोग करने संबंधित आरोप लगे हैं।

असल में सामने आ रही खबरों के मुताबिक, लोकप्रिय मैच मेकिंग ऐप Tinder की पैरेंट कंपनी The Match Group के साथ ही कुछ भारतीय स्टार्टअप्स ने भी भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (CCI) में शिकायत दर्ज करवाई है। इस बात का खुलासा Reuters की एक नई रिपोर्ट के जरिए हुआ है।

सामने आई जानकारियों के मुताबिक, इन कंपनियों ने CCI को की गई शिकायत में गूगल इंडिया (Google India) के नए “यूजर च्वॉइस बिलिंग” (UCB) पर सवाल खड़े करते हुए, इसके ‘प्रतिस्पर्धा विरोधी’ होने का आरोप लगाया है।

रिपोर्ट के अनुसार, The Match Group और एलायंस ऑफ डिजिटल इंडिया फाउंडेशन (ADIF) का यह कहना है कि गूगल ने भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग द्वारा पूर्व में दिए गए उन दिशानिर्देशों का पालन नहीं किया, जिसमें किसी भी प्रकार की “अनुचित और असंगत” शर्तों को लागू ना करने की हिदायत दी गई थी।

बताते चलें एलायंस ऑफ डिजिटल इंडिया फाउंडेशन (ADIF) असल में  पेटीएम (Paytm), मैपमाइइंडिया (MapmyIndia), मैट्रिमोनी.कॉम (Matrimony.com) और ट्रूलीमैडली (TrulyMadly) जैसे भारतीय स्टार्टअप का प्रतिनिधित्व करने वाली एक संस्था है।

CCI करेगा जाँच

इस नए आरोपों के संबंध में रिपोर्ट में आगे बताया गया है कि कम्पीटिशन कमीशन ऑफ इंडिया (CCI) ने 12 मई को गूगल के खिलाफ इन आरोपों को लेकर जाँच शुरू करने का मन बना लिया है। यह कहा जा रहा है कि “ऐसी राय बनी है कि इस विषय में जाँच की आवश्यकता” है।

cci-probes-google-india-over-in-app-payments

लेकिन हम ये साफ कर दें कि अभी तक गूगल की ओर से इन आरोपों या जाँच को लेकर किसी प्रकार का कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है।

See Also
instagram-nighttime-nudges-feature

गूगल पर पहले भी लग चुका है जुर्माना

यह नया मामला इसलिए भी दिलचस्प हो जाता है क्योंकि गूगल इंडिया पर कम्पीटिशन कमीशन ऑफ इंडिया (CCI) ने अक्टूबर 2022 में प्रतिस्पर्धा-विरोधी प्रथाओं को अपनाने का दोषी मानते हुए, गूगल इंडिया (Google India) पर लगभग ₹1,338 करोड़ का जुर्माना लगाया था।

इसके कुछ ही दिनों बाद भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग ने प्ले स्टोर (Play Store) पॉलिसी को लेकर बाजार में अपनी मजबूत स्थिति का दुरुपयोग करने का दोषी पाते हुए Google पर ₹936.44 करोड़ का जुर्माना लगाया था।

इसके साथ ही CCI ने कंपनी को अपनी सेवा शर्तों में कुछ अहम बदलाव करने के भी निर्देश दिए थे, जिससे इसके एकाधिकर पर अंकुश लगाया जा सके।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.