Now Reading
Layoffs 2023: एडटेक स्टार्टअप Unacademy फिर कर सकता है छंटनी, 12% कर्मचारियों की जा सकती है नौकरी – रिपोर्ट

Layoffs 2023: एडटेक स्टार्टअप Unacademy फिर कर सकता है छंटनी, 12% कर्मचारियों की जा सकती है नौकरी – रिपोर्ट

unacademy-to-layoff-12-jobs-in-fresh-round-of-layoff

Unacademy to layoff 12% of employees again?: साल 2022 में शुरू हुआ छंटनियों का सिलसिला, साल 2023 की शुरुआत से और तेजी पकड़ता दिखा, और आलम ये है कि यह अभी भी रुकने का नाम नहीं ले रहा है। दुनिया भर की नामी दिग्गज कंपनियों के साथ ही साथ भारतीय स्टार्टअप्स भी बड़ी संख्या में कर्मचारियों को निकालते नजर आ रहे हैं।

और ताजा खबरों के मुताबिक, एक बार फिर से भारतीय एडटेक स्टार्टअप Unacademy अपने कुल कर्मचारियों में से लगभग 12% को नौकरी से निकालने जा रहा है।

जी हाँ! यह खबर Economic Times की एक नई रिपोर्ट में सामने आई, जिसमें Unacademy के सीईओ, गौरव मुंजल (Gaurav Munjal) द्वारा कर्मचारियों को भेजे गए कथित इंटरनल मेमो के हवाले से इसका खुलासा किया गया है।

रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी के सीईओ ने गुरुवार (यानी 30 मार्च) को एक इंटरनल मेमो में इस बार की जानकारी दी है कि एडटेक स्टार्टअप लगभग 12% कर्मचारियों की छंटनी करने जा रहा है। उन्होंने कहा;

“हमनें अपने मुख्य व्यवसाय को लाभदायक बनाने की कोशिशों के चलते सही दिशा में कई कदम उठाएं हैं, लेकिन ऐसा लगता है कि यह पर्याप्त नहीं है।”

“हमें अपनी कोशिशों को और बढ़ाते हुए, आगे जाना होगा। इसी क्रम में दुर्भाग्यवश मुझे एक और कठिन निर्णय लेना पड़ रहा है। अपने निर्धारित लक्ष्यों को पूरा करने के लिए हमनें अपनी टीम के आकार को 12% तक कम करने का फैसला किया है।”

साफ कर दें कि इसको लेकर अभी कंपनी की ओर से किसी तरह की कोई आधिकारिक टिप्पणी नहीं की गई है, यह खबर महज मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से सामने आई है।

Unacademy Layoff

Unacademy Layoff: कंपनी पहले भी कर चुकी है छंटनी 

इसके पहले बीते साल 2022 में Unacademy ने दो चरणों में छंटनियों का ऐलान करते हुए लगभग 1,350 कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखाया था। साथ ही इसके मालिकाना हक वाली Relevel ने भी इस साल की शुरुआत में लगभग 40 कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया था।

Unacademy Layoff: Unacademy hives off coding platform Codechef

दिलचस्प रूप से खबर ऐसे वक्त में आई है, जब एक दिन पहले ही Unacademy Group ने CodeChef से थोड़ी दूरी बनाते हुए, उसे ग्रुप से अलग करके एक स्वतंत्र कंपनी का रूप दे दिया है।

बता दें, CodeChef असल में छात्रों और पेशेवरों के लिए एक प्रतिस्पर्धी प्रोग्रामिंग प्लेटफॉर्म के रूप में काम करता है, जिसका साल 2020 में Unacademy द्वारा अधिग्रहण कर लिया गया था।

लेकिन कल CodeChef ने एक बड़ा ऐलान करते हुए बताया कि इसे Unacademy Group से अलग कर दिया गया है, और अब यह एक स्वतंत्र व्यवसाय के रूप में अपनी वर्तमान टीम के साथ संचालन करेगा।

वैसे इस स्वतंत्र कंपनी में भी Unacademy ने बतौर निवेशक लगभग 30% की हिस्सेदारी अपने रखी है। साथ ही Unacademy ने एक तय प्रारंभिक पूंजी भी निवेश की है, जिससे यह नई कंपनी आगामी 12-18 महीनों तक अपना काम चला सके।

See Also
paytm-upi-market-share-drops-to-9-percent-after-bank-closed

इन कदमों के पीछे का कारण तो साफ है। असल में SoftBank समर्थित भारत का यह नामी एडटेक स्टार्टअप, मौजूदा फंडिंग विंटर (Funding Winter) जैसे हालातों के चलते, अन्य तमाम कंपनियों की तरह फिलहाल खर्चों में कटौती की कोशिशें कर रहा है।

पिछले महीने, कंपनी ने मार्च 2023 को समाप्त वित्तीय वर्ष के लिए मूल्यांकन को रद्द कर दिया था, ताकि फ़ंडिंग में समग्र रूप से कमी और ऑनलाइन शिक्षा के लिए मांग में कमी के बीच लाभदायक मोड़ पर ध्यान केंद्रित किया जा सके।

बताते चलें, वित्त वर्ष वित्त वर्ष 2020-21 में ₹1,537 करोड़ के मुकाबले, वित्त वर्ष 2021-22 में Unacademy का घाटा 85% की सालाना दर से बढ़ते हुए ₹2,848 करोड़ हो गया था। वहीं वित्त वर्ष 2022 में इसका राजस्व लगभग ₹719 करोड़ था।

कल ही यह भी सामने आया था कि माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) के मालिकाना हक वाले लोकप्रिय डेवलपर प्लेटफॉर्म, GitHub ने भारत में अपनी पूरी इंजीनियरिंग टीम (लगभग 140 लोगों) को नौकरी से निकाल दिया है।

इसके कुछ दिन पहले Amazon ने फिर से 9,000 कर्मचारियों और आईटी दिग्गज कंपनी Accenture में लगभग 19,000 कर्मचारियों को नौकरी से निकालने का ऐलान किया था।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.