Now Reading
Paytm की फाइनेंसियल सेवाओं का नेतृत्व करेंगें Coverfox के पूर्व सीईओ प्रेमांशु सिंह; कंपनी ने बतौर VP किया नियुक्त

Paytm की फाइनेंसियल सेवाओं का नेतृत्व करेंगें Coverfox के पूर्व सीईओ प्रेमांशु सिंह; कंपनी ने बतौर VP किया नियुक्त

nhai-removes-paytm-from-list-of-authorised-banks

ऑनलाइन बीमा प्रदाता कंपनी Coverfox के अधिग्रहण को लेकर चल रही बातचीत के कथित रूप से विफल साबित होने के बाद अब Paytm ने एक नया दाँव चला है।

जी हाँ! दरसल Paytm ने अब Coverfox के पूर्व सीईओ, प्रेमांशु सिंह को Paytm में बतौर वरिष्ठ उपाध्यक्ष नियुक्त किया है। प्रेमांशु अब Paytm द्वारा हाल में ही शुरू की गई नई वित्तीय सेवाओं के कारोबार की जिम्मेदारी संभालेंगें।

आपको बता दें Paytm ने हाल ही में ही इंश्योरेंस ब्रोकिंग लाइसेंस प्राप्त किया है और अब कंपनी देश के डिजिटल बीमा सेवा क्षेत्र में अपने पैर ज़माने के पूरे मौके तलाशेगी।

दरसल इंश्योरेंस रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (IRDAI) ने हाल में Paytm Insurance Broking Private Limited (PIBPL) को एक बीमा ब्रोकिंग लाइसेंस प्रदान किया है, जो असल में 6 महीनें पहले ही One 97 Communications Limited के पूर्ण स्वामित्व में शामिल की गयी एक सहायक कंपनी है।

इस बीच प्रेमांशु के कंपनी में शामिल होने की पुष्टि के बाद, एक अधिकारिक बयान में Paytm अध्यक्ष, अमित नय्यर ने कहा;

“हम प्रेमांशु के कंपनी से जुड़ने को लेकर बेहद उत्साहित हैं, उनके आने से कंपनी को उनके पारंपरिक उद्योगों और डिजिटल जगत में रहे व्यापक अनुभव का भी फायदा मिलेगा।”

“हम अक्सर वित्तीय सेवाओं के विभिन्न क्षेत्रों में अपनी उपस्थिति को मजबूत करने के मकसद से अपने नेतृत्व दल के विस्तार संबंधी अवसरों और संभावनाओं पर ध्यान देते रहतें हैं, ताकि Paytm में हम बेहतर और पूर्ण डिजिटल वित्तीय समाधान प्रदान कर सकें।”

दिलचस्प यह है कि Paytm करीब पिछले दो सालों से भारत के डिजिटल बीमा क्षेत्र में प्रवेश करने का मौका तलाश रहा था। यहाँ तक कि 2018 में कंपनी ने सामान्य और जीवन बीमा श्रेणियों के लिए बतौर बीमाकर्ता का लाइसेंस प्राप्त करने के लिए दो अलग-अलग इकाईयों का गठन भी किया था।

लेकिन अब हाल ही में किये गए Paytm Insurance Broking Private Limited (PIBPL) के तेज गठन के बाद ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि Paytm की पिछली इकाईयों को IRDAI द्वारा अस्वीकार कर दिया गया हो, जिसके चलते Paytm को इस नयी इकाई का गठन करना पड़ा।

और अब Paytm इस नयी इकाई के जरिये विभिन्न श्रेणियों में उत्पादों की पेशकश करने की योजना बना रहा है, जिसमें ऑटो, स्वास्थ्य और जीवन बीमा भी शामिल हैं।

See Also
rbi-vs-paytm-vijay-shekhar-sharma-assures-job-safety-for-employees

लेकिन शायद ही Paytm के लिए बीमा जगत का यह सफ़र आसान साबित हो, क्यूंकि उसको टक्कर देने के लिय बाजार में पहले से ही Coverfox, PolicyBazaar, Turtlemint और ET Money जैसे बड़े नाम मौजूद हैं।

बता दें, इस बीच दिलचस्प रूप से हाल में डिजिटल भुगतान के कंपनी के आंकड़ों में बड़े पैमाने पर वृद्धि दर्ज करने का दावा भी किया गया है। दरसल इसका कारन कंपनी ने सरकार द्वारा कोरोनोवायरस के प्रसार पर अंकुश लगाने के लिए अधिक से अधिक लोग घर से काम करने संबंधी आदेश को बताया है।

दरसल कंपनी के एक प्रवक्ता ने IANS को बताया था कि;

“हम सामान्य दिनों की तुलना में डिजिटल भुगतानों में 20% की वृद्धि दर्ज कर रहे हैं। ईंधन स्टेशनों इत्यादि जगहों पर लोग Paytm के इस्तेमाल को प्रमुखता दे रहें हैं। साथ ही ऑफलाइन माध्यमों में भी Paytm को नकद से अधिक पसंद करने वाले लोगों की संख्या बढ़ने के कारण इसमें 12% की वृद्धि हुई है।”

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.