Now Reading
NEET UG 2024 को लेकर बड़ा अपडेट, होगा री-एग्जाम, ग्रेस मार्क्स किए गए कैंसिल

NEET UG 2024 को लेकर बड़ा अपडेट, होगा री-एग्जाम, ग्रेस मार्क्स किए गए कैंसिल

  • NTA ने कैंसिल किए NEET 2024 में दिए गए ग्रेस मार्क्स
  • इन छात्रों को मिलेगा दोबारा एग्जाम देने का विकल्प
neet-ug-2024-supreme-court-hearing-live-update

NEET UG 2024 Re-Exam: आज के दिन सुप्रीम कोर्ट में NEET को लेकर दूसरी याचिकाओं पर सुनवाई के दौरान कुछ अहम अपडेट सामने आई हैं। कोर्ट में केंद्र सरकार की ओर से यह बताया गया है कि ग्रेस मार्क्स पाने वाले छात्रों को अब दोबारा नीट की परीक्षा देनी होगी, या फिर वह चाहें तो बिना ग्रेस मार्क्स वाले नम्बरों के साथ काउंसलिंग में हिस्सा ले सकते हैं।

जी हाँ! याचिकाओं पर सुनवाई शुरू होने के दौरान ही राष्ट्रीय परीक्षा एजेन्सी या कहें तो NTA की ओर से यह जानकारी दी गई। NTA ने बताया कि इसने 12 जून को एक बैठक की है, जिसमें छात्रों के संशय को दूर करने के लिए कुछ अहम निर्णय लिए गए हैं। NTA ने बताया कि NEET UG 2024 के रिज़ल्ट के तहत कुल 1,563 छात्रों को ग्रेस मार्क्स दिए गए थे।

NEET UG 2024 Re-Exam

लेकिन अब NTA ने सभी छात्रों के ग्रेस मार्क्स खत्म करते हुए ग्रेस मार्क्स के साथ वाला स्कोरकार्ड रद्द कर दिया है। ऐसे में अब ग्रेस मार्क्स हासिल करने वाले कुल 1,563 के पास दो विकल्प होंगे। इन दो विकल्पों के तहत या तो ये छात्र NEET UG री-एग्जाम में भाग में और उस नए रिजल्ट के आधार पर नया स्कोरकार्ड हासिल करें। या फिर वह ग्रेस मार्क्स के बिना असल प्राप्त नम्बरों के साथ ही 2024 की काउंसलिंग में हिस्सा ले सकते हैं।

आपको बता दें NTA की ओर से NEET UG 2024 का री-एग्जाम 23 जून को आयोजित किया जाना है। ध्यान देने वाली बात ये है कि इस री-एग्जाम में सिर्फ ये 1,563 छात्र ही हिस्सा ले सकते हैं, जिन्हें ग्रेस मार्क्स दिए गए थे। आज याचिका की सुनवाई के दौरान जस्टिस विक्रमनाथ और जस्टिस संदीप मेहता की बेंच के समक्ष NTA ने यह जानकारियाँ साझा की।

केंद्र सरकार की ओर से सुप्रीम कोर्ट को यह जानकारी दी गई कि NEET UG 2024 में ग्रेस मार्क्स पाने वले सभी 1,563 उम्मीदवारों के स्कोरकार्ड को रद्द किए जाएँगे। इन 1,563 छात्रों को दोबारा परीक्षा देने का भी विकल्प दिया जाएगा। केंद्र सरकार ने अदालत को बताया कि इस मामले में 10, 11 और 12 जून को हुई बैठकों में समिति की सिफ़ारिश के तहत यह निर्णय लिया गया।

राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा-स्नातक (नीट-यूजी) की परीक्षा राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (एनटीए) द्वारा देश भर के सरकारी और निजी संस्थानों में एमबीबीएस, बीडीएस और आयुष और अन्य संबंधित पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए आयोजित की जाती है।

See Also
elections-results-live-update-pm-modi-trailing-in-varanasi-smriti-irani-also

क्या है मामला?

आपको बता दें NEET UG 2024 का रिज़ल्ट जाने के बाद से ही परीक्षा में धांधली के आरोप लगने लगे थे। NEET UG 2024 परीक्षा पिछले माल 5 मई को आयोजित कार्यवाई गई थी, इसके बाद 4 जून को ही परीक्षा का रिज़ल्ट जारी किया गया। इसके बाद से ही परीक्षा में धांधली जैसे आरोपों ने तेजी पकड़ ली और इसको लेकर कई आरोप सामने आए। हर बार के मुक़ाबले इस बार रिज़ल्ट में अनोखे बदलाव देखनें को मिले।

असल में NEET रिज़ल्ट में 67 अभ्यर्थियों के 720 में से 720 अंक मिले यानी 100% अंक मिले हैं। मतलब ये कि इस बार कुल 67 छात्रों ने एक साथ टॉप किया है। ऐसे में यह बात प्राथमिक रूप से बहुत से लोगों को असंभव सी लग रही है। जबकि राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी यानी NTA का कहना है कि इस बार कुछ केंद्रो में गलत पेपर बाँटे जाने और अभ्यर्थियों का समय व्यर्थ होने के चलते कई छात्रों को ग्रेस मार्क दिए गए हैं।

लेकिन अब यह मामला सर्वोच्च अदालत के समक्ष है, लेकिन अदालत ने काउंसलिंग पर रोक लगाने से साफ इनकार कर दिया है। अदालत के अनुसार, अगर परीक्षा रद्द करने जैसा कोई फैसला दिया गया तो काउंसलिंग अपने आप ही रद्द हो जाएगी।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.