Now Reading
NEET विवाद को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने NTA को जारी किया नोटिस, पर काउंसलिंग पर रोक नहीं

NEET विवाद को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने NTA को जारी किया नोटिस, पर काउंसलिंग पर रोक नहीं

  • NEET पेपर लीक मामले में NTA को नोटिस जारी किया
  • लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने काउंसलिंग पर नहीं लगाई रोक
neet-ug-2024-grace-marks-cancel-nta-will-take-re-exam

Supreme Court Issues Notice To NTA Amid NEET Controversy: देश में होने वाली प्रतिष्ठित मेडिकल प्रवेश परीक्षा NEET UG 2024 के रिजल्ट को लेकर शुरू हुआ विवाद अब सर्वोच्च अदालत जा पहुँचा है। तमाम छात्र व शिक्षकों द्वारा NEET 2024 में धांधली के आरोपों के बीच अब सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (NTA) को एक नोटिस जारी किया है।

आज शीर्ष अदालत में NEET UG 2024 रिज़ल्ट में कथित धांधली के आरोपों को लेकर हो रही सुनवाई के दौरान ही NTA को इस मामले में जवाब देने हेतु एक नोटिस जारी किया गया है। असल में NEET UG प्रश्नपत्र लीक होने के आरोपों के बीच अभ्यर्थियों के एक समूह ने नए सिरे से परीक्षा आयोजित किए जाने की मांग करते हुए अदालत में एक याचिका दायर की है।

Supreme Court Issues Notice To NTA Amid NEET Controversy

परीक्षा में धांधली के आरोप लगाते हुए इस याचिका में शीर्ष अदालत से यह अपील की गई है कि NEET UG 2024 के रिज़ल्ट को वापस लेते हुए, पुनः परीक्षा करवाए जाने के आदेश दिए जाए। दोबारा परीक्षा की मांग करने वाली याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए  न्यायमूर्ति विक्रम नाथ और न्यायमूर्ति अहसानुद्दीन अमानुल्लाह की अवकाशकालीन पीठ ने NTA को नोटिस जारी किया है। अदालत ने कहा कि परीक्षा की शुचिता प्रभावित हुई है, इसलिए NTA को स्पष्टीकरण देने की ज़रूरत है।

न्यूज़North अब WhatsApp पर, सबसे तेज अपडेट्स पानें के लिए अभी जुड़ें!

लेकिन इसी दौरान सुप्रीम कोर्ट से छात्रों को भी एक झटका लगा है। असल में पीठ ने जारी रिज़ल्ट के आधार पर एमबीबीएस, बीडीएस और अन्य पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए उम्मीदवारों की काउंसलिंग पर रोक लगाने से इनकार कर दिया। इतना ही नहीं बल्कि शीर्ष अदालत की ओर से तत्काल परीक्षा रद्द करने की मांग को भी फिलहाल खारिच कर दिया गया है।

याचिकाकर्ताओं की ओर से पेश अधिवक्ता मैथ्यू जे नेदुमपारा ने पीठ से काउंसलिंग प्रक्रिया पर रोक लगाने का अनुरोध किया था। लेकिन पीठ ने स्पष्ट रूप से कहा कि “काउंसलिंग शुरू होने दीजिए, हम काउंसलिंग नहीं रोक रहे हैं।” आपको बता दें, इस मामले में सुनवाई के लिए अगली तारीख 8 जुलाई तय की गई है।

See Also
Drugs Being Sold On Instagram

क्या है मामला?

याद दिला दें NEET परीक्षा पिछले माल 5 मई को आयोजित कार्यवाई गई थी, इसके बाद 4 जून को ही परीक्षा का रिज़ल्ट जारी किया गया। इसके बाद से ही परीक्षा में धांधली जैसे आरोपों ने तेजी पकड़ ली और इसको लेकर कई आरोप सामने आए। हर बार के मुक़ाबले इस बार रिज़ल्ट में अनोखे बदलाव देखनें को मिले।

असल में NEET रिज़ल्ट में 67 अभ्यर्थियों के 720 में से 720 अंक मिले यानी 100% अंक मिले हैं। मतलब ये कि इस बार कुल 67 छात्रों ने एक साथ टॉप किया है। ऐसे में यह बात प्राथमिक रूप से बहुत से लोगों को असंभव सी लग रही है। जबकि राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी यानी NTA का कहना है कि इस बार कुछ केंद्रो में गलत पेपर बाँटे जाने और अभ्यर्थियों का समय व्यर्थ होने के चलते कई छात्रों को ग्रेस मार्क दिए गए हैं।

आपको बता दें, राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा-स्नातक (नीट-यूजी) की परीक्षा राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (एनटीए) द्वारा देश भर के सरकारी और निजी संस्थानों में एमबीबीएस, बीडीएस और आयुष और अन्य संबंधित पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए आयोजित की जाती है।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.