Now Reading
पहली बार भारत आ रहे Elon Musk, पीएम मोदी से होगी मुलाकात, निवेश का प्लान

पहली बार भारत आ रहे Elon Musk, पीएम मोदी से होगी मुलाकात, निवेश का प्लान

  • अप्रैल महीने में दिल्ली के भीतर हो सकती है मस्क और पीएम मोदी की मुलाक़ात
  • भारत में एंट्री से पहले Tesla और Reliance के बीच भी डील की अटकलें
elon-musk-coming-to-india-to-meet-pm-modi-in-april

Elon Musk Coming To India To Meet PM Modi In April: दुनिया के अमीर व्यक्तियों की सूची में शीर्ष स्थान पर क़ाबिज Tesla, SpaceX और X जैसी कंपनियों के मालिक एलन मस्क पहली बार भारत आने वाले हैं। मस्क ने अपने भारत दौरे के स्पष्ट संकेत देते हुए यह बताया कि वह प्रधानमंत्री मोदी से मिलने के लिए उत्सुक हैं। इस विषय में उन्होंने सोशल मीडिया पर जानकारी साझा की है।

यह संभावना जताई जा रही है कि बतौर Tesla सीईओ एलन मस्क पीएम मोदी से मिलकर भारत में एंट्री की राह पर चर्चा कर सकते हैं। उम्मीद यह भी है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात के बाद मस्क देश में निवेश और विनिर्माण इकाई की स्थापना को लेकर भी कुछ अहम ऐलान करें। रॉयटर्स की एक रिपोर्ट में मामले से जुड़े करीबी सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि एलन मस्क और पीएम मोदी के बीच यह मुलाकात 22 अप्रैल के आसपास नई दिल्ली में हो सकती है।

Elon Musk Coming To India

दिलचस्प रूप से यह खबर ऐसे समय में आई है, जब पिछले कुछ दिनों में भारत में एक विनिर्माण इकाई स्थापित करने के लिए Tesla और Reliance Industries के बीच एक संभावित संयुक्त उद्यम को लेकर कथित रूप से बातचीत की सुर्खियाँ सामने आई थीं। इतना ही नहीं बल्कि Tesla द्वारा जर्मनी में अपनी विनिर्माण इकाई में राइट-हैंड ड्राइव ईवी का उत्पादन भी शुरू किए जाने की बात कही गई।

इसको लेकर यह अटकलें जताई जाने लगी हैं कि Tesla पहले ही भारतीय बाजार में प्रवेश को लेकर अपनी योजना को और मज़बूती प्रदान करना चाहती है। इसी क्रम में पिछले कुछ सालों में Tesla के अधिकारियों की एक टीमें भारत सरकार के प्रतिनिधियों से भी मुलाकात करती रही हैं। Tesla बेसब्री से दुनिया के सबसे शक्तिशाली बाज़ारों में से एक यानी भारत में प्रवेश की कोशिशें कर रहा है।

गौर करने वाली बात ये भी है कि हाल में ही एलन मस्क का एक बयान सामने आया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि अन्य देशों की तरह भारत में भी इलेक्ट्रिक कारें होनी चाहिए। इतना ही नहीं बल्कि उन्होंने भारतीय बाजार में अपनी इलेक्ट्रिक कारों की एंट्री को लेकर कहा था कि यह प्रवेश “स्वाभाविक प्रगति” के तहत होगा।

एलन मस्क की इस भारत यात्रा का समय इसलिए भी खास हो जाता है क्योंकि कुछ ही समय पहले भारत सरकार ने कुछ इलेक्ट्रिक वाहनों पर आयात टैक्स को कम करते हुए, इसे 15% तक घटा दिया है। ये उन वाहन निर्माताओं के लिए है जो कम से कम $500 मिलियन का निवेश करने और 3 साल के भीतर घरेलू विनिर्माण शुरू करने का वादा कर रहे हैं।

See Also
guidelines-for-coaching-centres-by-indian-government

इसके पहले भारत सरकार और एलन मस्क टैक्स को लेकर ही आमने-सामने नजर आते रहे हैं। एलन मस्क खुले रूप से अधिक आयात टैक्स को लेकर चिंता व्यक्त कर चुके हैं। बता दें वर्तमान नियमों के अनुसार, भारत कीमत के आधार पर आयातित इलेक्ट्रिक वाहनों पर 70% से लेकर 100% का टैक्स लगाता है।

असल में Tesla को लेकर पहले एलन मस्क अपने वाहनों को भारत में आयात करने के प्रयास कर रहे थे, लेकिन भारत सरकार लागतार सरकार उनसे स्थानीय मैन्युफैक्चरिंग की दिशा में प्रतिबद्धता की मांग कर रही है। पिछले साल जून माह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के अमेरिकी दौरे के दौरान एलन मस्क से भी उनकी मुलाक़ात हुई थी।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.