Now Reading
भारत में Apple ने जारी किया स्पाइवेयर अलर्ट, iPhone यूजर्स की जासूसी का खतरा

भारत में Apple ने जारी किया स्पाइवेयर अलर्ट, iPhone यूजर्स की जासूसी का खतरा

  • Apple ने iPhone यूजर्स को दी जासूसी की चेतावनी
  • मर्सनरी स्पाइवेयर हमले को लेकर यूजर्स को किया आगाह
apple-110-billion-dollar-stock-historically-buyback

Apple Issues Spyware Attack Alert in India: टेक दिग्गज Apple ने एक बार फिर भारत समेत तमाम देशों में यूजर्स को कथित स्पाइवेयर अटैक को लेकर अलर्ट जारी किया है। ख़बरों के मुताबिक, Apple कुल 91 देशों के iPhone यूजर्स को एक ‘मर्सनरी स्पाइवेयर’ (Mercenary Spyware) खतरनाक जासूसी सॉफ्टवेयर के प्रति आगाह किया है।

कथित रूप से यह बताया जा रहा है कि यह पेगासस (Pegasus) की तरह ही एक जासूसी सॉफ़्टवेयर हो सकता है। इकोनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार Apple की ओर से 10 अप्रैल की रात भारतीय समयानुसार 12.30 पर ईमेल के जरिए तमाम iPhone यूजर्स को इस संभावित साइबर हमले को लेकर सतर्क किया है। इस स्पाईवेयर का मकसद यूजर्स के फोन से बिना उनकी अनुमति के उनका पर्सनल डेटा चुराना है।

Apple Spyware Alert in India

दिलचस्प रूप से 6 महीनों के भीतर दूसरी बार ऐसा हो रहा है जब Apple ने iPhone यूजर्स को किसी स्पाइवेयर सॉफ्टवेयर की मदद से हो सकने वाली संभावित जासूसी को लेकर अलर्ट किया हो। आपको बता दें, पिछले साल ही अक्टूबर 2023 में ऐसा मामला सामने आया था जब Apple ने कथित रूप से देश के कई नेताओं को उनके आईफोन पर “संभावित राज्य प्रायोजित स्पाइवेयर अटैक” का मैसेज भेजा था।

न्यूज़North अब WhatsApp पर, सबसे तेज अपडेट्स पानें के लिए अभी जुड़ें!

इसके बाद से ही पेगासस का इस्तेमाल कर राजनेताओं, सरकार से सवाल करने वाले पत्रकारों, कुछ सामाजिक कार्यकर्ताओं आदि की कथित जासूसी के आरोप लगाए जाने लगे थे। पेगासस एक इजरायली कंपनी द्वारा बनाया गया जासूसी सॉफ्टवेयर है। इसका इस्तेमाल करके किसी भी व्यक्ति के फोन आदि की पूरी निगरानी रखी जा सकती है। यह अपनी तरह का दुनिया का सबसे बेहतर जासूसी सॉफ्टवेयर माना जाता है, जो एंड्रॉयड और आईफोन किसी भी तरह के फ़ोन को हैक कर सकने में सक्षम है। खास ये है कि शिकार बने व्यक्ति को भी यह पता नहीं लगता कि उसके फोन की जासूसी की जा रही है।

हालाँकि इस बार Apple की ओर से किसी राज्य प्रायोजित स्पाइवेयर अटैक का जिक्र नहीं किया गया है। लेकिन इस बार यह मामला और भी गंभीर हो सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि इस बार चेतावनी मर्सनरी स्पाइवेयर को लेकर है, जो आमतौर पर सामान्य साइबर हमलों से अधिक ख़तरनाक माना जाता है। आम साइबर हमला और मर्सनरी स्पाइवेयर हमला थोड़ा अलग होता है।

See Also
krutrim-ai-roll-out-chatbot-public-beta-version

ऐसा बताया जाता है कि मर्सनरी स्पाइवेयर अटैक एक पीछे बहुत ही अधिक पेशेवर हमलवारों का हाथ होता है, जो ऊँच चुनिंदा लोगों को अपना शिकार बनाते हैं। अक्सर इस तरह के हमले में भारी पैसा भी खर्च किया जाता है।

आपको बता दें, अगर आपको Apple की ओर से किसी तरह के स्पाइवेयर हमले का कोई मैसेज नहीं मिला और और इसके बाद भी आप यह पता करना चाहते हैं कि क्या आपका iPhone भी इस मर्सनरी स्पाइवेयर अटैक का शिकार हुआ है या नहीं? तो इसका तरीक़ा भी है। आप appleid.apple.com पर जाकर लॉग-इन करके सबसे ऊपर देख सकते हैं। इसमें आपको Threat Notification दिखाई पड़ सकता है। वैसे Apple ऐसी स्थिति में आपकी Apple ID में शामिल ईमेल और फोन नंबर पर मैसेज करके भी इसकी जानकारी दे सकती है।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.