Now Reading
अंबानी और अडानी आए साथ? इस सेक्टर को लेकर हुआ बड़ा समझौता, जानें यहाँ!

अंबानी और अडानी आए साथ? इस सेक्टर को लेकर हुआ बड़ा समझौता, जानें यहाँ!

  • अडानी पावर लिमिटेड ने रिलायंस इंडस्ट्रीज के साथ 500 मेगावाट के लिए 20 साल के लॉन्ग टर्म पावर परसेज एग्रीमेंट किया.
  • MEL की कुल ऑपरेशनल कैपेसिटी 2800 मेगावाट की.
adani-acquires-trainman-an-train-booking-site

Ambani and Adani came together: भारत में शीर्ष अमीरों की सूची में नंबर एक और दो में शामिल उद्योगपति मुकेश अंबानी और गौतम अडानी की कंपनियों ने एक बड़े प्रोजेक्ट में साथ आने का फैसला किया है।

मिली जानकारी के अनुसार पॉवर सेक्टर के एक बड़े प्रोजेक्ट के लिए गौतम अडानी और मुकेश अंबानी साथ आएं है। अडानी ग्रुप की कंपनी, अडानी पावर लिमिटेड ने रिलायंस इंडस्ट्रीज के साथ 500 मेगावाट के लिए 20 साल के लॉन्ग टर्म पावर परसेज एग्रीमेंट (PPA) किया है।

अडानी पावर की ओर से बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज फाइलिंग में बताया गया कि उनके पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी कंपनी महान एनर्जेन लिमिटेड (MEL) ने रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) के साथ 20 साल का दीर्घकालिक बिजली खरीद समझौता किया है। यह समझौता विद्युत नियम 2005 में परिभाषित कैप्टिव उपयोगकर्ता नीति के तहत 500 मेगावाट बिजली की आपूर्ति के लिए किया गया है। आपकों बता दे, MEL की कुल ऑपरेशनल कैपेसिटी 2800 मेगावाट की है।

रिलायंस करेगा ₹50 करोड़ का निवेश

इस साझेदारी में रिलायंस इसके लिए MEL के 5 करोड़ इक्विटी शेयर के जरिए ₹50 करोड़ का निवेश करेंगी। इस साझेदारी में कैप्टिव उपयोगकर्ता नीति का लाभ उठाने के लिए, रिलायंस इंडस्ट्रीज को बिजली संयंत्र की कुल क्षमता के (Ambani and Adani came together) अनुपात में कैप्टिव इकाई में 26 प्रतिशत हिस्सेदारी रखना होगा। इसके लिए अडानी पावर, महान एनर्जेन, रिलायंस इंडस्ट्रीज ने एक निवेश समझौते पर हस्ताक्षर किया हैं।

BHEL को ₹4,000 करोड़ का ऑर्डर

BHEL को छत्तीसगढ़ के रायगढ़ में 1,600 मेगावाट के रायगढ़ चरण- 2 ताप-विद्युत संयंत्र की स्थापना के लिए अडानी पावर लिमिटेड से ₹4,000 करोड़ का ऑर्डर मिला है। बीएचईएल ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि इसे छत्तीसगढ़ के रायगढ़ चरण-2 में अति-महत्वपूर्ण तकनीक पर आधारित दो गुणा 800 मेगावाट की परियोजना के लिए उपकरणों की आपूर्ति, निर्माण और परिचालन के पर्यवेक्षण के लिए 27 मार्च, 2024 को ऑर्डर मिला है।

न्यूज़North अब WhatsApp पर, सबसे तेज अपडेट्स पानें के लिए अभी जुड़ें!

See Also
kisan-andolan-tractor-march-traffic-advisory

गौरतलब हो बिजली निर्माण के क्षेत्र में अडानी ग्रुप एक बड़ा नाम है, इसके स्वामित्व वाली बिजली उत्पादन और आपूर्ति में लगी कंपनी MEL की स्थापना 19 अक्टूबर 2005 को की गई थी। ऑडिटेड स्टैंडअलोन वित्तीय विवरण के अनुसार, वित्तीय वर्ष 2022-23, 2021-22 और 2020-21 के लिए MEL का टर्नओवर क्रमशः₹ 2,730.68 करोड़, ₹1,393.59 करोड़ और ₹692.03 करोड़ था।

 

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.