Now Reading
हल्द्वानी: अतिक्रमण को लेकर फैली हिंसा में 4 की मौत, 100 से अधिक घायल

हल्द्वानी: अतिक्रमण को लेकर फैली हिंसा में 4 की मौत, 100 से अधिक घायल

  • उत्तराखंड में हल्द्वानी के एक इलाकें में फैली व्यापक हिंसा
  • अतिक्रमण हटाने पहुँची टीम का स्थानीय लोगों ने किया विरोध
up-police-constable-exam-2024-paper-leak-issue

Haldwani Violence Update: उत्तराखंड का हल्द्वानी 8 फरवरी को व्यापक हिंसा का गवाह बना। पुलिस और प्रशासन की ओर से अतिक्रमण हटाने गई टीम और स्थानीय लोगों के बीच झड़प की खबरें, हिंसा के वीडियो, फोटो सोशल मीडिया पर वायरल होते रहे। मीडिया रिपोर्ट्स के में बताया गया कि अतिक्रमण हटाने पहुँची टीम पर कुछ  उपद्रवियों ने पत्थरबाजी तक की, जिसके चलते काई पुलिस वालों के घायल होने की भी खबर है।

यह मामला बनभूलपुरा क्षेत्र का बताया जा रहा है। खबरों के अनुसार, क्षेत्र में मलिक के बगीचे में बने कथित अवैध धार्मिक स्थल को अतिक्रमण करार देते हुए, जब पुलिस और प्रशासन की टीम पर पहुँची, तो स्थानीय लोगों ने पहले विरोध शुरू किया, और थोड़े ही समय बाद कुछ उपद्रवियों पथराव शुरू कर दिया।

Haldwani Violence Update

शुरुआती रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस पथराव व भड़की हिंसा आदि के चलते लगभग 50 से अधिक पुलिस कर्मी और 150 से अधिक निगम कर्मियों को चोटें आई। उपद्रव इतना भड़का कि वहाँ मौजूद कई सरकारी वाहनों में भी आगजनी की कोशिश हुई और कुछ वाहन फूंक दिए गए।

बताया जा रहा है कि पुलिस और प्रशासन की टीमें संबंधित क्षेत्र में 8 फरवरी को शाम 4:30 बजे पहुँची और वनभूलपुरा में नगर निगम और पुलिस बल ने अतिक्रमण स्थल पर कार्यवाई शुरू की। इसी बीच लगभग शाम 5:00 बजे जेसीबी व अतिक्रमण से जुड़ी टीम पर स्थानीय भीड़ आक्रोशित हो गई और जमकर विरोध शुरू कर दिया। इसके बाद से हालात रातभर और सुबह तक तनावपूर्ण बने हुए हैं।

न्यूज़North अब WhatsApp पर, सबसे तेज अपडेट्स पानें के लिए अभी जुड़ें!

See Also
up-shikshak-bharti-new-rules-90-marks-on-written-and-10-from-interview

हिंसा के बाद हालात ऐसे रहे कि रात को प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था के चलते हल्द्वानी बस स्टैंड पर भी मुश्तैदी बढ़ा दी। साथ ही कुछ बस सेवाओं के प्रभावित होने की भी जानकारी सामने आई है। हल्द्वानी के बनभूलपुरा में हिंसा के बाद इंटरनेट सेवाएं भी बंद कर दी गईं हैं।

अब कैसे हैं हालात

अतिक्रमण हटाने के चलते फैली इस हिंसा के बाद क्षेत्र में अभी भी स्थिति सामान्य नहीं कही जा सकती है। हल्द्वानी के संबंधित क्षेत्र में दुकानें बंद कर दी गईं हैं। साथ ही प्रशासन की ओर से कर्फ्यू लगाया गया है, जिसके चलते आसपास के इलाक़ों के कक्षा 1 से 12 तक के सभी स्कूलों को भी बंद कर दिया गया है। नैनीताल जिला प्रशासन की ओर से सभी स्कूल-कॉलेजों को भी बंद करने का आदेश दिया है।

रात में भी यह खबर आई कि हालातों की गंभीरता को देखते हुए उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राजधानी देहरादून में उच्च स्तरीय बैठक बुलाई और खुद हालातों की समीक्षा करते हुए, अधिकारियों को उपद्रवदियों से सख्ती के साथ निपटने के निर्देश दिए। साथ ही क्षेत्र में जल्द से जल्द शांति व क़ानून व्यवस्था क़ायम करने के लिए भी कहा गया है। उत्तराखंड सरकार ने हल्द्वानी के बनभूलपुरा में हिंसा के बाद पूरे राज्य में हाई अलर्ट जारी किया है।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.