Now Reading
OYO ने लॉन्च किया OYO Care फीचर, मिलेगी “क्वॉरंटीन और आईसोलेशन” सुविधा

OYO ने लॉन्च किया OYO Care फीचर, मिलेगी “क्वॉरंटीन और आईसोलेशन” सुविधा

oyo-launches-new-feature-to-provide-isolation-quarantine-facilities

देश भर में तेज़ी से बढ़ते महामारी के प्रकोप के बीच, जाने माने भारतीय हॉस्पिटैलिटी स्टार्टअप OYO ने अपने मोबाइल ऐप पर OYO Care नामक नया फीचर लॉन्च किया है। इस फ़ीचर के तहत OYO यूज़र्स को कोविड-19 रोगियों और अन्य व्यक्तियों के लिए क्वॉरंटीन और आईसोलेशन सुविधा बुक करने की सहूलियत मिलेगी।

ज़ाहिर है, इस नए OYO Care फ़ीचर के साथ OYO अब देश में कोविड-19 की नई लहर का मुक़ाबला करने में लोगों की मदद करना चाहता है और ये सुविधा काफ़ी लोगों को चाहिए भी।

इस बीच OYO Care के बारे में जानकारी देते हुए कंपनी के संस्थापक और ग्रुप सीईओ, रितेश अग्रवाल ने कहा;

“हमने OYO Care पहल शुरू की है ताकि हमारे मेहमान ऐसे विकल्प का भी चयन कर सकें, जब उन्हें क्वॉरंटीन या आईसोलेशन के लिए जगह की तलाश होती है।”

“इसके ज़रिए हमारा प्रयास है कि हेल्थ वर्कर्स, रोगियों के परिवारों व संक्रमण से प्रभावित लोगों को रहने के लिए एक सुरक्षित स्थान प्रदान करके वायरस के प्रसार को कम किया जा सके।”

कैसे काम करेगा OYO Care?

आपको बता दें OYO Care के लिए क़रीब 30 से अधिक अस्पतालों, कई सरकारी प्राधिकरणों और निजी क्षेत्र की कंपनियों के साथ साझेदारी करके हेल्थ वर्कर्स, फ्रंटलाइन कर्मचारियों, संक्रमितों व उनके परिवार वालों के लिए उनके शहरों में ही उन्हें सुरक्षित क्वॉरंटीन या आईसोलेशन सुविधा दी जा सके।

See Also
github-layoffs-entire-engineering-team-in-india

इस बीच OYO इंडिया और साउथ-ईस्ट के सीईओ रोहित कपूर ने भी अपने एक  ट्वीट में कहा कि OYO Care के साथ OYO के दरवाजे उन सभी लोगों के लिए खुले हैं जिन्हें अपने प्रियजनों की सुरक्षा के लिए अस्पतालों के पास एक सुरक्षित स्थान की जरूरत है।

इस बात में कोई शक नहीं है कि कोविड-19 महामारी की इस विनाशकारी दूसरी लहर के बीच भारत ने पिछले 24 घंटों में 3.23 लाख ताजा कोरोनावायरस  के मामले दर्ज किए हैं।

कोविड-19 की इस लहर के बीच भारत की स्थिति

स्वास्थ्य मंत्रालय के अपडेट के अनुसार, मंगलवार की सुबह कुल 3,23,144 नए COVID-19 मामले, 2,771 संबंधित मौतें, और 2,51,827 की रिकवरी दर्ज की गई है। वहीं कुल सक्रिय मामलों की संख्या भी 28,82,204 तक पहुँच गई है।

देश के हालातों को देखते हुए कई दिग्गज़ कंपनियाँ जैसे Apple, Google, Microsoft, Paytm, CRED, Vivo आदि आर्थिक रूप से मदद करके देश को संकट से उबारने के प्रयास कर रही हैं। लेकिन ऑक्सीजन से लेकर अस्पतालों में बेड तक की भारी कमी के चलते स्थिति लगातार गम्भीर बनी हुई है।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.