Now Reading
भारतीय मूल के ‘अरविंद कृष्णा’ होंगें IBM के नए सीईओ

भारतीय मूल के ‘अरविंद कृष्णा’ होंगें IBM के नए सीईओ

International Business Machines, जिसको हम सब IBM के नाम से जानते हैं, ने अपने नए CEO की घोषणा कर दी है।

दरसल कंपनी ने यह जानकारी दी है कि मौजूदा सीईओ Virginia “Ginni” Rometty अपने आठ साल के लंबे कार्यकाल के बाद 6 अप्रैल को औपचारिक रूप से पद छोड़ने जा रही हैं।

और इसके चलते अब कंपनी ने नए सीईओ के रूप में अरविंद कृष्णा के नाम का ऐलान किया है। अरविंद वर्तमान में कंपनी के क्लाउड और कॉग्निटिव-सॉफ्टवेयर डिवीजन के प्रमुख हैं।

साथ ही कंपनी ने यह भी खुलासा किया कि पिछले साल अधिग्रहित की गई Red Hat के सीईओ Jim Whitehurst अब IBM के नए प्रेसिडेंट होंगें।

दिलचस्प रूप से ऐसा पहली बार होगा कि IBM एक सीईओ और एक प्रेसिडेंट के तौर पर दो अलग अलग नेतृत्व और कार्यकारी टीम के साथ काम करता नज़र आएगा।

इस बीच आपको बता दें भारतीय मूल के अरविंद कृष्णा ने 1990 में IBM जॉइन की थी और आईआईटी कानपुर से अपनी स्नातक की डिग्री हासिल की हुई है। और साथ ही वह Urbana-Champaign स्थित University of Illinois से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में पीएचडी भी हैं।

इस ऐलान के बाद उन्होंने एक बयान में कहा;

“मैं IBM के अगले सीईओ के रूप में चुने जाने से काफ़ी उत्साहित हूँ, और मैं बोर्ड और Ginni द्वारा मुझपर दिखाए गये इस विश्वास के लिए शुक्रगुजार हूँ।”

“आईटी इंडस्ट्री के इस तेज बदलाव वाले अनूठे समय में IBM, Red Hat और आदि सभी दुनिया भर के ग्राहकों के साथ काम करने को लेकर मैं काफी उत्सुक हूं। हमारे पास अपने ग्राहकों को इन परिवर्तनों के युग में आगे बढ़ाने में मदद करने का बहुत अच्छा अवसर हैं।”

वहीँ इस बीच कंपनी ने बताया कि इस साल के अंत तक कंपनी के बोर्ड के अध्यक्ष के रूप में Virginia Rometty अपनी सेवाएं देती रहेंगी। अब तक तो आप समझ ही चुकें होंगें कि Virginia Rometty बिज़नेस क्षेत्र में सबसे उच्च पद पर रहने वाली महिला के रूप में अपना नाम दर्ज करवा चुकी हैं।

See Also
nasa-osiris-rex-returns-with-asteroid-sample

लेकिन एक सच यह भी है कि उनके कार्यकाल में IBM के शेयर 25% से अधिक गिर गए और कंपनी अन्य तकनीकी दिग्गजों से काफी पिछड़ सी गई है।

दरसल इसी के चलते Red Hat का अधिग्रहण IBM को वापस ट्रैक पर लाने के लिए Rometty द्वारा किया गया एक प्रयास था।

आपको बताना चाहेंगें कि इस ओपन-सोर्स सॉफ्टवेयर प्रदाता Red Hat का $34 बिलियन में किया गया अधिग्रहण Rometty के द्वारा उठाया गया साहसिक कदम कहा जाता है। हालाँकि अब यह वक़्त ही बतायेगा कि क्या वाकई Red Hat इतनी बड़ी राशि के काबिल था और क्या यह IBM को अच्छे रिटर्न प्रदान भी कर पायेगा या नहीं?

इस बीच अरविंद कृष्णा IBM के नए सीईओ के रूप में अब उन खास चुनिंदा भारतीय लोगों की लिस्ट में शुमार हो गये हैं, जो दुनिया की शीर्ष बहुराष्ट्रीय कंपनियों का नेतृत्व कर रहें हैं।

आपको बता दें इस लिस्ट में Microsoft के सीईओ सत्या नडेला, Google और Alphabet के सीईओ सुंदर पिचाई, Mastercard के सीईओ अजय बंगा और Adobe के सीईओ शांतनु नारायण शामिल हैं।

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.