Now Reading
यूपी: 7720 लेखपालों को मिले नियुक्ति पत्र, सीएम योगी ने दी ये सलाह?

यूपी: 7720 लेखपालों को मिले नियुक्ति पत्र, सीएम योगी ने दी ये सलाह?

  • 7220 चयनित अभ्यर्थियों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नियुक्ति पत्र सौंपा.
  • सीएम योगी ने पूर्ववर्ती सपा सरकार की जमकर आलोचना की.
cm-yogi-instructions-for-namaz-animal-sacrifice-on-bakrid-2024

UP 7720 appointment of accountants: उत्तर प्रदेश लेखपाल भर्ती परीक्षा में चयनित हुए सभी अभ्यर्थियों को राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोकभवन में आयोजित मिशन रोज़गार कार्यक्रम में नियुक्ति पत्र सौंपा। उत्तप्रदेश सरकार राज्य में प्रति वर्ष लेखपाल भर्ती परीक्षा प्रवेश परीक्षा का आयोजन कराता आ रहा है, जिसमें राज्य के शिक्षिक बेरोजगार अभियार्थी भाग लेते है। राज्य सरकार द्वारा लेखपाल के लिए आयोजित परीक्षा में 7220 चयनित अभ्यर्थियों को मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ ने नियुक्ति पत्र सौंपा।

विपक्ष की आलोचना

नियुक्ति पत्र बाटने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य की पूर्ववती सपा सरकार की जमकर आलोचना की, योगी आदित्यनाथ ने अपने संबोधन में कहा कि, 2022 की राजस्व विभाग के द्वारा भर्तियों को अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने पूरा कर लिया है। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों की फितरत होती है अच्छे कार्यों में रोड़े अटकाना और गुमराह करना। उन्होंने इस कार्य में भी रोड़े अटकाए लेकिन अधीनस्थ चयन आयोग सुप्रीम कोर्ट तक गया और और आज ये नियुक्ति पत्र वितरित किया जा रहा है।

राज्य में भर्तियां पारदर्शिता के साथ संपन्न

राज्य में चयनित लेखपाल की नियुक्ति पत्र बांटने के बाद योगी आदित्यनाथ ने अपने संबोधन में कहा, नियुक्ति प्रक्रिया पूरी पारदर्शिता और ईमानदारी के साथ संपन्न की गई है, नियुक्ति प्रक्रिया में न किसी की सिफारिश काम आई, न ही किसी के साथ कोई भेदभाव नियुक्ति प्रक्रिया के दौरान किया गया है, ऐसे में चयनित अभ्यर्थियों को चाहिए कि वह, अब बिना किसी सिफ़ारिश के अपने दायित्वों को बिना किसी पक्षपात, ईमानदारी के साथ निर्वहन करें।

न्यूज़North अब WhatsApp पर, सबसे तेज अपडेट्स पानें के लिए अभी जुड़ें!

See Also
devendra-fadnavis-offered-to-resign-amid-maharashtra-result

पिछली सरकार में भाई-भतीजावाद हावी

पूर्ववर्ती सपा सरकार पर हमला करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 2017 से पहले भर्ती प्रक्रिया में तमाम समस्याएं थीं। एक परिवार आपस में जिले बांट लेता था और चाचा-भतीजे वसूली पर निकल जाते थे, लेकिन अब स्थिति (UP 7720 appointment of accountants) बदल चुकी नियुक्ति प्रक्रिया में निष्पक्षता से युवाओ में विश्वास आया है। पहले की सरकारों की नीयत साफ नहीं थी। भाई-भतीजावाद हावी होता था, कोर्ट से स्टे होते थे। पैसा सरकार के गुर्गों और दलालों की जेब में जाता था। लेकिन अब यह सब बदल चुका है।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.