Now Reading
Jio In Africa: मुकेश अंबानी की Reliance अब अफ्रीका में भी लाएगी टेलीकॉम क्रांति? ये है प्लान!

Jio In Africa: मुकेश अंबानी की Reliance अब अफ्रीका में भी लाएगी टेलीकॉम क्रांति? ये है प्लान!

  • 3 करोड़ 30 लाख आबादी वाले अफ्रीकी देश घाना में 5G टेक्नॉलजी पहुंचाने में मदद करेगी रिलायंस इंडस्ट्रीज.
  • घाना की कंपनी नेक्स्ट-जेन इंफ्राको को मोबाइल नेटवर्क बनाने के लिए जरुरी उपकरण, ऐप्स और स्मार्टफोन्स मुहैया कराएगी रिलायंस इंडस्ट्रीज.
reliance-disney-india-merger-confirmed-nita-ambani-will-lead-this-jv

Jio In Africa: मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज अफ्रीका के मोबाइल ब्रॉडबैंड मार्केट में एंट्री कर रही है, ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के अनुसार, अपने टेलिकॉम व्यवसाय का विस्तार करते हुए रिलायंस इंडस्ट्रीज के नियंत्रण वाली कंपनी रेडिसिस कॉर्प. घाना की कंपनी नेक्स्ट-जेन इंफ्राको को मोबाइल नेटवर्क बनाने के लिए जरुरी उपकरण, ऐप्स और स्मार्टफोन्स मुहैया कराएगी।

घाना में किफायती दामों में इंटरनेट सुविधा प्रदान करेंगे

आपकों बता दे, घाना का मार्किट दुनिया में तेजी से बढ़ने वाले मार्किट में से एक है, यह कंपनी अपनी टेलिकॉम सर्विस के जरिए मार्किट में अपनी उपस्थिति दर्ज कराना चाह रही है। इस नई साझेदारी को लेकर नेक्स्ट-जेन इंफ्राको के डायरेक्टर हरकिरत सिंह के मुताबिक, यह पार्टनरशिप अफ्रीका में किफायती दामों पर मोबाइल इंटरनेट सेवाएं देने में मदद करेगी।

घाना की 3.30 करोड़ आबादी

अफ्रीकी देश घाना में 3 करोड़ 30 लाख आबादी में मुख्यत तीन टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर काम कर रहे है, जिनके नाम MTN घाना, वोडाफोन घाना और सरकारी कंपनी एयरटेल टिगो है। इन कंपनियों के बीच NGIC अपनी जगह बनाने के लिए तैयार है। कंपनी के निर्देशक हरकिरत सिंह का कहना है कि NGIC के पास एडवांस टेक्नॉलजी है और वो घाना में इंटरनेट (Jio In Africa)  सेवाएं कम दाम पर देने में सफल होंगे।

ऐसा इसलिए होगा क्योंकि उनके पास बाकी कंपनियों के मुकाबले एक फायदा है – घाना में सिर्फ उन्हीं के पास 5G टेक्नॉलजी लाने का लाइसेंस है, साथ ही NGIC की मजबूत टीम और उनके बड़े पार्टनर भी उनकी सफलता में मदद करेंग। उनका इशारा रिलायंस इंडस्ट्रीज ही सब-कंपनी रेडिसिस, नोकिया, माइक्रोसॉफ्ट और टेक महिंद्रा जैसी कंपनियों से मिलने वाले सहयोग की ओर था।

NGIC में अब तक नही है, रिलायंस इंडस्ट्रीज के कोई शेयर

NGIC एक ऐसी इकलौती कंपनी है, जिसके पास 5G नेटवर्क देश में प्रदान करने का लाइसेंस प्राप्त किया है। इसलिए कंपनी की योजना अन्य टेलिकॉम प्रोवाइडर्स और इंटरनेट प्रोवाइडर्स को भी नई 5G टेक्नॉलजी मुहैया कराने की है, उनका मकसद कम दामों में अफ्रीका जैसे विकासशील देशों में इंटरनेट सेवाएं पहुंचाना है। हालांकि कंपनी का मानना है कि, आमतौर पर अकेली मोबाइल कंपनी के लिए इतनी बड़ी सेवा शुरू करना मुश्किल होता है, लेकिन NGIC को भरोसा है कि वो ये कर पाएंगे।

See Also
swiggy-hikes-price-as-platform-fee-upto-rs-10-ahead-of-ipo

न्यूज़North अब WhatsApp पर, सबसे तेज अपडेट्स पानें के लिए अभी जुड़ें!

NGIC के निर्देशक के ओर से यह भी साफ किया गया कि अभी वर्तमान में कंपनी की हिस्सेदारी में Reliance और उनकी बाकी पार्टनर कंपनियों के पास कंपनी के कोई शेयर नहीं है।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.