Now Reading
ड्रोन दीदी: सरकार ने महिंद्रा ग्रुप से किया समझौता, महिलाओं को देंगे ड्रोन प्रशिक्षण

ड्रोन दीदी: सरकार ने महिंद्रा ग्रुप से किया समझौता, महिलाओं को देंगे ड्रोन प्रशिक्षण

  • केंद्र सरकार महिंद्रा कंपनी के साथ मिलकर महिलाओं को ड्रोन परीक्षण देने जा रही है.
  • कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय ने इस पायलट प्रोजेक्ट के तहत तकरीबन 15000 महिलाओं को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य रखा है.
pli-scheme-for-drones-and-auto-industries

Drone training to women through “Drone Didi Scheme”: केंद्र सरकार महिंद्रा कंपनी के साथ मिलकर महिलाओं को ड्रोन परीक्षण देने जा रही है, केंद्र सरकार की यह योजना महिला को ड्रोन परीक्षण के माध्यम से कृषि कार्यों में जैसे कि फसल में खाद डालना, फसल की वृद्धि की निगरानी करना और बीज बोने आदि के लिए महारत हासिल करवाना हैं।

योजना का नाम ड्रोन ‘ दीदी योजना ‘ रखा गया है, इसे केन्द्र सरकार के अधीन कार्यरत विभागकौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय (एमएसडीई) द्वारा संचालित किया जायेगा। एमएसडीई ने इस महत्वांक्षी पायलट प्रोजेक्ट के लिए महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किया है।

इस साल 15000 महिलाओं को प्रशिक्षण का लक्ष्य

कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय ने इस पायलट प्रोजेक्ट के तहत तकरीबन 15000 महिलाओं को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य रखा है, जिसे की महिला ड्रोन द्वारा किए जाने वाले कृषि कार्यों में प्रशिक्षित होकर अपने अजीविकी के नए संसाधनों के लिए तैयार हो सकें।

हैदराबाद और नोएडा स्थित एनएसटीआई को चुना गया

कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय के सचिव श्री अतुल कुमार तिवारी ने इस पायलट प्रोजेक्ट के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि, कृषि में ग्रामीण महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए हैदराबाद और नोएडा स्थित एनएसटीआई के दो केंद्रों को पायलट प्रोजेक्ट के लिए चुना गया है। इस उद्देश्य के माध्यम से राष्ट Drone training to women through (“Drone Didi Scheme”)  निर्माण में महिलाओं की भागीदारी को बढ़ाया जाएगा।

See Also
advisory-on-edtech-apps

एमएसडीई और एम एंड एम हैदराबाद और नोएडा में स्थित राष्ट्रीय कौशल प्रशिक्षण संस्थान (एनएसटीआई) में 20 महिला प्रति बैच के विशेष बैच के द्वारा 500 महिलाओं को कुशल बनाने के लिए दो पायलट प्रोजेक्ट संचालित करेंगे। इन केंद्रों पर रिमोट पायलट प्रशिक्षण संगठन (आरपीटीओ) प्रशिक्षकों के माध्यम से नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) द्वारा अनुमोदित 15-दिवसीय पाठ्यक्रम, चलाया जाएगा।

न्यूज़North अब WhatsApp पर, सबसे तेज अपडेट्स पानें के लिए अभी जुड़ें!

प्रशिक्षण कार्यक्रम में स्व सहायता समूह का भी सहयोग

इस समझोते के तहत, एनएसटीआई प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाने के लिए बुनियादी ढांचा, प्रतिभागियों के लिए छात्रावास सुविधा और भागीदारी बढ़ाने के लिए स्थानीय महिला स्वयं सहायता समूहों और गैर सरकारी संगठनों से मेल-जोल बनाएगा और उसकी सहायता से सभी प्रशिक्षण प्राप्त करने पहुंची महिलाओं को बेहतर सुविधा मुहैया करवाने का काम करेगा।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.