Now Reading
“भारत 1 महीने में उतना कैशलेस पेमेंट करता है, जितना अमेरिका 3 साल में” – विदेश मंत्री

“भारत 1 महीने में उतना कैशलेस पेमेंट करता है, जितना अमेरिका 3 साल में” – विदेश मंत्री

  • भारत में लोगों का जीवन आसान हो गया है- विदेश मंत्री जयशंकर
  • COVID 19 भारत सरकार अपने 7 मिलियन लोगों को विदेशों से वापस लेकर आई.
s-jaishankar-on-india-canada-tension

Cashless payment India more than America: भारत के आर्थिक सुधारों की चर्चा दुनिया भर में होती है। भारत की जीडीपी ग्रोथ में वृद्धि सहित अन्य मोर्चो में निरंतर सुधार प्रयास ने भारत को वैश्विक स्तर में एक नई पहचान दी है। इसी कड़ी में भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने नाइजीरिया में एक कार्यक्रम में भारतीय मूल के लोगों को संबोधित करते हुए एक बड़ी बात कही है।

विदेश मंत्री ने अपने एक संबोधन के दौरान कहा, अमेरिका में कैशलेस पेमेंट में जितना लेनदेन तीन वर्षो मे होता है उतना भारत में अब एक महीने में हो जाता है। भारत में लोगों ने कैशलेस तकनीकी को बेहतर ढंग से अपनाया है, अब भारत में रेहड़ी पटरी में बैठने वाले लोगों से लेकर एक बड़ी मॉल तक कैश से लेनदेन को छोड़कर कैशलेस लेने देन की और बढ़ रहे है।

देश में आज बहुत कम लोग ही हैं, जो नगद भुगतान करते हैं। बहुत कम ही लोग हैं जो सिर्फ नगद में भुगतान स्वीकार करते हैं, आज भारत का नागरिक तकनीकी के क्षेत्र में अग्रसर है और इसका प्रयोग गंभीरता से कर रहा है। वर्तमान में भारत में लोगों का जीवन आसान हो गया है,भारत और भारत के लोग बेहतर तरीके से बदलाब को अपना रहे है।

Cashless payment India more than America

विदेश मंत्री जयशंकर ने कहा कि मेरे लिए यह देखना सुखद है कि एक देश कैसे चुनौतियों को स्वीकार करता है, चुनौतियों से आगे निकलता है और अपनी अर्थव्यवस्था को मजबूत करता है।

कैसे आम आदमी की जिंदगी आसान बनती जा रही है। हम अपने लोगों की क्षमताओं का कैसे उपयोग करते हैं और दुनिया के बाकी देशों को कैसे देखते हैं। एक देश के तौर में पिछले वर्षो में जो बदलाब आए है उसके ये पांच उदारण है।

COVID 19 की चुनौतिया

विदेश मंत्री जयशंकर ने भारत के COVID 19 की चुनौतियों को लेकर भी नाइजीरिया में संबोधन में कहा, कई देश अभी भी इसके प्रभाव से निपटने में सक्षम नहीं हैं, लेकिन भारत सरकार अपने 7 मिलियन लोगों को विदेशों से वापस लेकर आई है। COVID 19 को लेकर किया गया कार्य भारत की सकारात्मक सोच को दिखाता है।

See Also
israel-hamas-war-oil-prices-jumps-impact-on-india

न्यूज़North अब WhatsApp पर, सबसे तेज अपडेट्स पानें के लिए अभी जुड़ें!

विदेश मंत्री ने नाइजीरिया और भारत के संबंधों को लेकर भी प्रकाश डाला। भारत और नजीरिया के बीच 12 से 15 अरब अमेरिकी डॉलर का कारोबार है, दोनों ही देश की सभ्यताएं एक आधुनिक राष्ट्र के रूप में पहचानी जाती है। इस दौरान विदेश मंत्री ने नाइजीरिया के निवेशकों से भारत में निवेश के लिए आमंत्रित भी किया।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.