Now Reading
ईवी लॉजिस्टिक सर्विस स्टार्टअप Zyngo ने हासिल किया लगभग ₹41 करोड़ का निवेश

ईवी लॉजिस्टिक सर्विस स्टार्टअप Zyngo ने हासिल किया लगभग ₹41 करोड़ का निवेश

startup-funding-zyngo-raises-rs-41-crore

Startup Funding – Zyngo: आने वाला दौर इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) का है, फिर चाहे ‘व्यक्तिगत इस्तेमाल’ के लिहाज से बात हो या फिर फिर कमर्शियल स्तर पर लॉजिस्टिक आदि के संदर्भ में। शायद यही वजह भी है कि नए दौर के परिवहन विकल्प के रूप में उभरे इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) से संबंधित स्टार्टअप्स भी तेजी से निवेशकों का ध्यान अपनी ओर खींचने में कामयाब नजर आ रहे हैं।

इसी क्रम में अब गुरुग्राम आधारित थर्ड पार्टी लॉजिस्टिक सेवा प्रदाता स्टार्टअप Zyngo EV Mobility Pvt. Ltd. ने अपने प्री-सीरीज ए फंडिंग राउंड में $5 मिलियन (लगभग ₹41 करोड़) का निवेश हासिल किया है।

कंपनी के लिए इस निवेश दौर का नेतृत्व Delta Corp ने किया। लेकिन इस दौर में कुछ मौजूदा निवेशकों जैसे LC Nueva Investment Partners आदि ने भी भागीदारी दर्ज करवाई।

स्टार्टअप के मुताबिक, प्राप्त की गई इस राशि का इस्तेमाल मुख्य रूप से वाहन बेड़े के आकार को बढ़ाने, नए भौगोलिक क्षेत्रों में विस्तार करने और प्रौद्योगिकी को अगले स्तर पर ले जाने की दिशा में किया जाएगा।

Zyngo की शुरुआत साल 2020 में प्रतीक राव (Prateek Rao) द्वारा की गई थी। यह कंपनी अपने इलेक्ट्रिक वाहनों के बेड़े का इस्तेमाल करते हुए, लास्ट-माइल डिलीवरी की सुविधा प्रदान करती है। कंपनी के ग्राहकों की लिस्ट में बिजनेस-टू-बिजनेस (बी2बी) और बिजनेस-टू-कंज़्यूमर (बी2सी) दोनों तरह के नाम शामिल हैं।

Zyngo
प्रतीक राव (सीईओ और संस्थापक – Zyngo)

यह स्टार्टअप अपने ग्राहकों की दैनिक लॉजिस्टिक्स और परिवहन जरूरतों को पूरा करते हुए, मुख्य रूप से इंट्रा-सिटी लॉजिस्टिक्स पर ध्यान केंद्रित करता है।

कंपनी के अनुसार, यह एक खास ‘एसेट-लाइट मॉडल’ पर काम करती है, जिसके तहत यह ईवी बेड़े के संचालन और प्रबंधन की जिम्मेदारी संभालते हुए, बाजार में आपूर्ति और मांग के बीच बतौर मध्यस्थ काम करती है।

Zyngo तमाम ई-कॉमर्स कंपनियों, एसएमई (SMEs), एफएमसीजी (FMCG) कंपनियों, क्लाउड किचन आदि के जरिए मांग एकत्र करता है। वहीं दूसरी ओर सकल आपूर्ति सीधे ओईएम (OEMs) और DCOs (ड्राइवर-सह-ऑपरेटर्स) से की जाती है।

See Also
apple-india-revenue-touches-rs-50000-crore-in-fy23

अपने ईवी वाहनों का इस्तेमाल करते हुए, एक ओर जहाँ कंपनी डिलीवरी के दौरान कार्बन उत्सर्जन को कम करने में कामयाब रही है, वहीं साथ ही इसने डिलीवरी लागत को भी 35% तक कम किया है।

फिलहाल Zyngo इलेक्ट्रिक दोपहिया और तिपहिया समेत कुल 1,150 से अधिक वाहनों के बेड़े के साथ हर महीनें लगभग 3 लाख डिलीवरी दर्ज कर रहा है।

लेकिन आगामी समय में कंपनी का लक्ष्य वित्त वर्ष 2023 के अंत तक पूरे भारत में 3,000 से अधिक लॉजिस्टिक्स ईवी को तैनात करने का है। वहीं साल 2025 तक Zyngo का लगभग 18,000 ईवी बेड़े के साथ देश भर में विस्तार की योजना बना रहा है।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.