Now Reading
Snapdeal ने लिया बड़ा फैसला, फिलहाल रद्द किया ₹1,250 करोड़ के IPO का प्लान

Snapdeal ने लिया बड़ा फैसला, फिलहाल रद्द किया ₹1,250 करोड़ के IPO का प्लान

snapdeal-drops-rs-1250-crore-ipo-plan

Snapdeal Drops IPO Plan: भारतीय ई-कॉमर्स बाजार में शुरुआती वर्षों में अमेजन (Amazon) और फ्लिपकार्ट (Flipkart) जैसे बड़े प्रतिद्वंदियो से पीछे रह जाने के बाद, अब बीतें कुछ सालों में फिर से बेहतर वापसी करने के प्रयास करते नजर आने वाली Snapdeal ने अब एक बड़ा फैसला किया है।

असल में सॉफ्टबैंक (Softbank) समर्थित इस ई-कॉमर्स कंपनी ने अपनी “इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग” यानी “आईपीओ” योजना (IPO Plan) को फिलहाल के लिए टालनें का मन बनाया है। जी हाँ! खुद कंपनी ने इसका खुलासा Reuters को दिए एक बयान में किया है।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

बता दें, Snapdeal ने साल 2021 में भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (SEBI) के पास ड्राफ्ट रेड हेयरिंग प्रॉस्पेक्ट्स (DRHP) दायर किया था। कंपनी का इरादा $152 मिलियन (लगभग ₹1,250 करोड़) का IPO दायर करने का था।

आपको अगर याद हो तो यह वही वक्त था जब कई भारतीय टेक स्टार्टअप कंपनियाँ खुद को स्टॉक एक्सचेंज पर इन-लिस्ट करने की होड़ में थीं। लेकिन अब कंपनी के प्रवक्ता की मानें तो कंपनी ने DRHP वापस लेने का निर्णय किया है।

कंपनी के इस फैसले के पीछे बाजार की मौजूदा स्थितियों को वजह बताया जा रहा है। हम देख ही रहे हैं कि साल 2022 में तमाम टेक स्टार्टअप्स के शेयरों में भारी गिरावट देखनें को मिल रही है। ऐसे में लगता है Snapdeal ने भी इन कंपनियों ने IPO की हालत को देखते हुए, अपनी योजना को फिलहाल टालने का फ़ैसला किया हो।

Snapdeal IPO Plan

लेकिन कंपनी ने इतनी संभावनाएँ ज़रूर छोड़ी हैं कि वह भविष्य में फिर से IPO लाने पर विचार कर सकती है। Snapdeal के अनुसार, भविष्य में बाजार में हालातों के सुधरने और पूंजी की आवश्यकताओं को देखते हुए, वापस से IPO योजना पर विचार किया जा सकता है।

See Also
google-layoffs-more-employees-again-in-2024

Snapdeal Drops IPO Plan

Snapdeal की शुरुआत साल 2010 में कुनाल बहल और रोहित बंसल ने मिलकर की थी। दिलचस्प रूप से साल 2015-16 के आसपास कंपनी की वैल्यूएशन $6.5 बिलियन तक आँकी गई थी, लेकिन बाद में तेजी से इसकी वैल्यूएशन में गिरावट भी दर्ज की गई।

सेबी (SEBI) में DRHP दाखिल करते समय, सामने आई रिपोर्ट्स में ये खुलासा किया गया था कि कंपनी उस वक्त लगभग $1.5 बिलियन से अधिक की वैल्यूएशन देख रही थी।

असल में Zomato, Paytm, PolicyBazaar, Nykaa जैसी तमाम कंपनियों ने अपनी IPO की शुरुआत के बाद से अब तक शेयरों की कीमत में भारी गिरावट देखी है। आलम तो ये है कि Paytm ने भी हाल में रिकॉर्ड गिरावट दर्ज की।

गौर करने वाली बात ये है कि कुछ ही समय पहले तक IPO दायर करने की होड़ में नजर आने वाले भारतीय टेक स्टार्टअप अब फिलहाल ऐसी किसी योजनाओं से बचते नजर आ रहे हैं।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.