Now Reading
ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म PhysicsWallah ने किया एडटेक स्टार्टअप FreeCo का अधिग्रहण

ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म PhysicsWallah ने किया एडटेक स्टार्टअप FreeCo का अधिग्रहण

physics-wallah-waives-off-fees-of-51000-students-worth-rs-17-cr

PhysicsWallah Acquires FreeCo: हाल में ही लगभग ₹770 करोड़ का निवेश हासिल करते हुए, देश का 101वाँ यूनिकॉर्न बनने वाले लोकप्रिय ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म PhysicsWallah ने जयपुर आधारित एडटेक स्टार्टअप FreeCo के अधिग्रहण का ऐलान किया है।

इस अधिग्रहण के जरिए नोएडा आधारित PhysicsWallah को उम्मीद है कि एक तरफ जहाँ कंपनी की मौजूदा सेवाओं को मजबूती मिलेगी, वहीं साथ ही साथ छात्रों के लर्निंग अनुभव को भी बेहतर बनाया जा सकेगा।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

साफ कर दें कि दोनों की कंपनियों की ओर से इस सौदे से संबंधित वित्तीय लेनदेन का खुलासा नहीं किया गया है।

बताया ये जा रहा है कि इस डील के तहत दोनों स्टार्टअप्स की टीमें कंटेंट लाइब्रेरी, फैकल्टी मैनेजमेंट और संसाधनों के कुशल इस्तेमाल करने जैसे तमाम क्षेत्रों में काम करती नजर आएगीं।

बता दें FreeCo की शुरुआत साल 2020 में प्रशांत सोनी (Prashant Soni) और निखिल चौधरी (Nikhil Chaudhary) ने मिलकर की थी।

physicswallah-acquires-freeco

FreeCo एक डाउट-सॉल्विंग (Doubt-Solving) और संसाधन प्रबंधन स्टार्टअप है, जो बिजनेस-टू-बिजनेस और बिजनेस-टू-कस्टमर दोनों तरीकों से ग्राहकों की माँग पूरी करता है। इसके साथ ही कंपनी कंटेंट सर्विस, ऑनलाइन ट्यूशन, पेन टैब वीडियो सोल्यूशन आदि सेवाएँ भी प्रदान करती है।

इस स्टार्टअप का दावा है कि अब तक यह 28 से अधिक बिजनेस-टू-बिजनेस क्लाइंट्स के साथ काम कर चुका है, जिसमें BYJU’S, Unacademy, Brainly और Doubtnut जैसी बड़े नाम शुमार हैं।

वहीं दूसरी तरफ, बात की जाए तो PhysicsWallah (PW) की तो इसकी शुरुआत साल 2016 में अलख पांडे (Alakh Pandey) और प्रतीक महेश्वरी (Prateek Maheshwari) ने मिलकर की थी।

See Also
indian-govt-asks-quick-commerce-companies-to-prove-10-minute-delivery-claims

PW छात्रों को इंजीनियरिंग (IIT-JEE) और मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं (NEET) की तैयारी में मदद करता है। अब तक कंपनी 10 मिलियन से अधिक छात्रों को अपने प्लेटफ़ॉर्म के साथ जोड़ने में कामयाब रही है।

फिलहाल इस एडटेक स्टार्टअप में 1,900 कर्मचारी कार्यरत हैं, जिनमें 500 शिक्षक और 90-100 तकनीकी विशेषज्ञ शामिल हैं। साथ ही छात्रों के प्रश्नों का उत्तर देने के लिए 200 एसोसिएट प्रोफेसर और परीक्षा प्रश्न व टर्म पेपर बनाने के लिए अन्य 200 पेशेवर भी कंपनी के साथ जुड़े हुए हैं।

हाल में ही PW ने अपने सीरीज-ए फंडिंग राउंड के तहत Westbridge और GSV Ventures के नेतृत्व में $1.1 बिलियन की वैल्यूएशन पर $100 मिलियन (लगभग ₹770 करोड़) का निवेश हासिल किया था, जिसके बाद यह देश का 101वाँ यूनिकॉर्न स्टार्टअप बन गया था।

यूनिकॉर्न बनाने के बाद से यह PW द्वारा किया गया पहला अधिग्रहण है, जिसको लेकर अलख पांडे ने कहा;

“एड-टेक स्पेस में FreeCo के अनुभव के साथ, हम अपने मौजूदा शिक्षण तरीकों को और उन्नत बना सकेंगें। हमारा लक्ष्य उन्नत उपकरणों और प्रौद्योगिकियों का उपयोग करते हुए, छात्रों के लिए सीखने की प्रक्रिया को आसान बनाने का है।”

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.