Now Reading
HDFC Bank ने Grameen E-Store में ख़रीदी हिस्सेदारी, पेश किया AI चैटबॉट ‘Eva’

HDFC Bank ने Grameen E-Store में ख़रीदी हिस्सेदारी, पेश किया AI चैटबॉट ‘Eva’

hdfc-bank-stake-in-grameen-e-store-launches-ai-chatbot-eva

HDFC Bank / Grameen E-Store / AI Chatbot Eva:  मुंबई आधारित भारतीय बैंक, HDFC Bank ने सरकार द्वारा समर्थित राज्य ग्रामीण ई-स्टोर (Grameen E-Store) में 1.5% की हिस्सेदारी खरीदी है। इस सौदे के तहत कितने पैसों में ये हिस्सेदारी ख़रीदी गई है? इस बात का ख़ुलासा नहीं किया गया है।

आपको बता दें, ग्रामीण ई-स्टोर (Grameen E-Store) असल में अप्रैल 2020 में लॉन्च किया गया था। इसका संचालन इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MeitY) के तहत 400,000 कॉमन सर्विस सेंटर्स (CSCs) नेटवर्क द्वारा किया जाता है।

क्यों ख़ास है Grameen E-Store?

यह ग्रामीण ई-स्टोर (Grameen E-Store) एक ऐसे मॉडल पर काम करता है, जिसके तहत हर CSC का एक ग्राम-स्तरीय उद्यमी अपने आसपास के क्षेत्रों की आवश्यकता और उपलब्धता के आधार पर एक पर्सनलाइज्ड ऐप तैयार करता हिया और उन ग्राहकों को डिलीवर करता है।

इस ग्रामीण ई-स्टोर के ज़रिए दूर-दराज के क्षेत्रों में स्थानीय हैंडिक्राफ़्ट सामान, किराने का सामान और अन्य कई तरह के प्रॉडक्ट्स की पेशकश की जाती है। इस पोर्टल ने लॉन्च के एक साल के भीतर ही ₹250 करोड़ का राजस्व आँकड़ा पार कर लिया है।

hdfc-bank-grameen-e-store
Credits: CSCStore.in

आपको बता दें सरकार ने ईकॉमर्स कंपनी Migrocer के साथ मिलकर एक मास्टर ऐप बनाया है, जिसमें 80,000 प्रॉडक्ट्स का डेटाबेस है। इसमें प्रॉडक्ट्स या कहें तो सामान को सीधे किसानों या NGOs या आसपास के रिटेल दुकानदारों, थोक विक्रेताओं या सुपरमार्केट से खरीदा जा सकता है।

Grameen E-Store Stats & Data

ये ग्रामीण ई-स्टोर देश भर के क़रीब 120,000 स्थानों पर उपलब्ध हैं। और दिलचस्प ये है कि इस ग्रामीण ई-कॉमर्स प्लेटफ़ॉर्म से Tata Croma, Pepsi, Coca-Cola, Bharat Petroleum जैसे ब्रांड जुड़े हुए हैं।

और तो और Tata Croma और HDFC Bank ख़ासतौर पर देश भर में ग्रामीण ई-स्टोर (Grameen E-Store) के विस्तार को लेकर कोशिशें कर रहें हैं।

इसी कड़ी में दिसंबर 2020 में ग्रामीण ई-स्टोर में Tata Group ने ₹10 करोड़ का निवेश किया था।

See Also
byjus-india-ceo-arjun-mohan-resigns-raveendran-byju-will-take-charge

और अब HDFC Bank द्वारा प्राप्त इस नए निवेश के ज़रिए ये ई-कॉमर्स प्लेटफ़ॉर्म अपने तकनीक, डिलीवरी चैनलों और प्रोडक्ट पोर्टफोलियो को मजबूत करने का इरादा रखता है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ अपनी शुरुआत से अब तक इस प्लेटफ़ॉर्म ने क़रीब 22.5 लाख ऑर्डरों के साथ ₹252 करोड़ का राजस्व दर्ज किया है।

HDFC Bank ने पेश किया AI Chatbot ‘Eva’

इस बीच सोमवार को HDFC Bank ने CSC के डिजिटल सेवा पोर्टल पर अपने आर्टिफ़िशल-इंटेलिजेन्स चैटबॉट ‘Eva’ को भी लॉन्च किया है, जो VLEs (Village Level Entrepreneurs) को अपने ग्राहकों के बीच HDFC Bank के प्रोडक्ट और सेवाओं को बेचने से पहले उनके बारे में समझने और जानने का मौक़ा देगा।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.