Now Reading
CAIT छोटे विक्रेताओं के लिए लॉन्च कर रहा है स्वदेशी ‘ई-कॉमर्स ऐप’, Amazon व Flipkart को देगा टक्कर

CAIT छोटे विक्रेताओं के लिए लॉन्च कर रहा है स्वदेशी ‘ई-कॉमर्स ऐप’, Amazon व Flipkart को देगा टक्कर

cait-to-launch-swadeshi-ecommerce-app-bharat-e-market-for-small-sellers

भारत में क़रीब 8 करोड़ ट्रेडर्स/ व्यापारियों और 40,000 ट्रेड एसोसिएशंस का प्रतिनिधित्व करने वाले कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) ने ऐलान किया है कि वह अपने ई-कॉमर्स पोर्टल Bharat E Market का एक मोबाइल ऐप लॉन्च करने जा रहा है।

असल में इसके ज़रिए CAIT एसोसिएशन का मक़सद अधिक से अधिक छोटे व्यापारियों को स्मार्टफोन के माध्यम से समान को सहूलियत से बेंच सकने की सुविधा देने का है।

आपको बता दें CAIT ने मई 2020 में अपने ई-कॉमर्स पोर्टल Bharat E Market का ऐलान किया था, जिसको जून 2020 तक लॉन्च करने की बात कही जा रही थी। लेकिन अब तक ये वेबसाइट लॉन्च नहीं हो सकी है।

लेकिन अब ख़बरों के मुताबिक़ CAIT द्वारा प्लेटफ़ॉर्म के लॉन्च में हुई देरी के बाद अब 11 मार्च 2021 को इसका लॉन्च किया जा सकता है।

Bharat-E-Market-logo

दिलचस्प ये है कि एसोसिएशन के दावे के मुताबिक़ इसने भारत भर में 50,000 से अधिक व्यापारियों से संपर्क किया है और जनवरी, 2021 तक में इसका लक्ष्य क़रीब 1 लाख और व्यापारियों से संपर्क करने का था।

पर अब अपने नए प्रेस नोट में एसोसिएशन का लक्ष्य 2021 के अंत तक 7 लाख विक्रेताओं को प्लेटफ़ॉर्म पर साइन अप करने का है, और CAIT इस आँकड़े को 2023 के अंत तक 1 करोड़ विक्रेताओं के पारे ले जाना चाहती है।

CAIT को Bharat E Market में मिला इसका सपोर्ट

आपको बता दें CAIT ने DPIIT के स्टार्टअप इंडिया डिवीजन के साथ साझेदारी भी की है, ताकि भारत भर में ई-कॉमर्स सेवाओं के लिए किराना दुकानों आदि तक पहुँच बनाई जा सके।

इस बीच CAIT को SME फोकस्ड नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म GlobalLinker जहाँ टेक्नोलॉजी क्षेत्र में मदद प्रदान कर रहा है, वहीं ऑल इंडिया ट्रेडर वेलफेयर एसोसिएशन (AITWA) से इसको लॉजिस्टिक्स सपोर्ट की पेशकश की गई है।

See Also
byjus-aakash-insitute-appoints-deepak-mehrotra-as-new-ceo

Bharat-E-Market-app

ऐसे काम करेगा CAIT का Bharat E Market

ख़ास ये है कि CAIT ने साफ़ तौर पर कहा है कि उसका नया प्लेटफॉर्म भारत में Amazon और Flipkart जैसी निजी ई-कॉमर्स कंपनियों से बहुत अलग होगा क्योंकि यह सिर्फ़ खुदरा विक्रेताओं और ग्राहकों पर केंद्रित होगा। ये ई-कॉमर्स प्लेटफ़ॉर्म कोई अतिरिक्त कमीशन या शुल्क नहीं लेगा और व्यापारियों की आय को सीधे उनके पास भेजेगा।

और सबसे प्रमुख बात ये कि एसोसिएशन के अनुसार इस प्लेटफ़ॉर्म पर लिस्टिंग और सर्च के मामले में सभी विक्रेताओं के साथ समानता बरती जाएगी।

Bharat E Market प्लेटफ़ॉर्म पर एक जियोटैगिंग सुविधा भी दी जाएगी ताकि ग्राहकों को उनकी पसंद के निकटतम स्टोर से ऑर्डर करने की सहूलियत मिल सके। एक बार आदेश देने पर व्यापारियों को समान डिलीवर करने में सिर्फ़ दो घंटे तक का समय लगेगा।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.