Now Reading
Amazon ने वेब सीरीज़ ‘तांडव’ को लेकर आधिकारिक रूप से माँगी माफ़ी

Amazon ने वेब सीरीज़ ‘तांडव’ को लेकर आधिकारिक रूप से माँगी माफ़ी

amazon-issues-official-apology-over-web-series-tandav

कुछ ही दिनों पहले भारत सरकार ने देश में ओटीटी प्लेटफार्मों (OTT Platforms) के लिए नई गाइडलाइंस जारी कर दी है। और अब इसका असर कुछ ऐसा है कि Amazon Prime Video ने मंगलवार (2 मार्च) को अपने भारतीय उपयोगकर्ताओं के लिए पेश की गई वेब सीरीज़ ‘तांडव’ (Tandav) को लेकर धार्मिक भावनाओं को आहत करने के लिए एक माफ़ी माँगी है।

असल में नौ एपिसोड वाली इस Prime Video सीरीज़ को लेकर सत्तारूढ़ राजनीतिक दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सहित कई अन्य राजनीतिक दलों व संगठनों ने आपत्ति दर्ज की थी।

Amazon Prime Video Tandav Apology

अमेरिका आधारित इस वीडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफ़ॉर्म ने “अमेजन प्राइम वीडियो माफी मांगता है (Amazon Prime Video Apologizes)” टाइटल के साथ एक संदेश जारी किया है।

इस संदेश में कंपनी ने कहा है कि;

“कंपनी को बेहद अफसोस है कि कुछ दृश्यों को आपत्तिजनक रूप से चिन्हित किया गया और जिसको देखते हुए हमनें प्लेटफ़ॉर्म पर मौजूद उस सीरीज़ के सभी भागों में से उन दृश्यों को या तो एडिट कर दिया है या फिर पूरी तरह से हटा दिया है।”

Amazon Prime Video की ये माफ़ी ऐसे वक़्त में आई है जब कुछ ही दिन पहले Amazon Prime Video India की कंटेंट चीफ, अपर्णा पुरोहित की अग्रिम जमानत याचिका इलाहाबाद हाईकोर्ट द्वारा खारिज कर दी गई है।

बता दें इस वेब सीरीज में धार्मिक भावना को आहत करने को लेकर Amazon के खिलाफ दायर 10 एफआईआर के कारण अपर्णा जेल में हैं।

गौरव सोलंकी द्वारा लिखी और निर्देशक अली अब्बास जफर द्वारा डायरेक्ट की गई इस वेब सीरीज़ में सैफ अली खान, ट्विंकल खन्ना, सुनील ग्रोवर आदि द्वारा बड़े अभिनेताओं ने किरदार निभाए हैं।

Amazon-Prime-Video-apology

ये पहली बार नहीं है जब देश में स्ट्रीमिंग प्लेटफ़ॉर्म जैसे Netflix और Amazon Prime के किसी शो या वेब सीरीज़ को लेकर कोई बड़ा विवाद सामने आया हो। ये प्लेटफ़ॉर्म अक्सर अपने शोज़ में अश्लीलता या अपमानजनक तरीक़े से भावनाओं को आहात करने के विषय को लेकर भारत में चर्चा में रहते हैं। और Tandav वेब सीरीज़ को लेकर हुआ विवाद भी ऐसे ही एक हाई-प्रोफ़ाइल मामलों में से है।

See Also
paytm-layoffs-the-company-will-cut-5000-6300-jobs

एक सच ये भी है कि भारत Amazon के लिए कुछ सबसे अहम बजारों में से के है और यही वजह है कि कंपनी अब तक इस बाज़ार में तमाम क्षेत्रों जैसे ई-कॉमर्स, वीडियो स्ट्रीमिंग, क्लाउड कंप्यूटिंग और अन्य में $6.5 बिलियन का निवेश करने का लक्ष्य रखता है।

ED के निशाने पर भी है Amazon India?

आपको बता दें Amazon अपने ई-कॉमर्स सेवाओं और ग़लत ढंग से कुछ ख़ास सेलर्स को प्लेटफ़ॉर्म पर बढ़ावा देने के आरोपों को लेकर ED के निशाने पर है।

हाल ही में ही ऑल इंडिया मोबाइल रिटेलर्स एसोसिएशन (AIMRA) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की है कि Amazon India की गतिविधियों को लेकर चल रही जाँच के पूरे होने तक देश में कंपनी के संचालन को निलंबित किया जाए।

कुछ ही दिनों पहले कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) ने कहा था कि वह कथित व्यावसायिक दुर्भावना और GST चोरी जैसे मुद्दों को लेकर ई-कॉमर्स दिग्गज कंपनियों जैसे Amazon और Flipkart के खिलाफ एक महीने का देशव्यापी आंदोलन शुरू करेगा। ये आंदोलन 5 मार्च से शुरू होगा और 5 अप्रैल, 2021 तक जारी रहेगा।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.