Now Reading
Apple का प्रमुख सप्लाई साझेदार Foxconn भारत में कर सकता है $1 बिलियन का निवेश: रिपोर्ट

Apple का प्रमुख सप्लाई साझेदार Foxconn भारत में कर सकता है $1 बिलियन का निवेश: रिपोर्ट

foxconn-buys-equipment-from-apple-to-expand-in-india

देश में कुछ समय से बन रहे हालातों के बीच अब देशी और विदेशी कम्पनियाँ काफ़ी तेज़ी से भारत के अंदर निवेश करने की कोशिशें करती नज़र आ रहीं हैं।

और ऐसे में भला Foxconn कैसे पीछे रह सकता है। जी हाँ! Apple के सबसे प्रमुख निर्माता साझेदारों में शुमार ताइवान की यह कम्पनी अब दक्षिण भारत में एक फैक्ट्री का विस्तार करने के लिए $1 बिलियन का निवेश करने की योजना बना रही है।

ईकोनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ भारत और अमेरिका द्वारा चीन से दूरी बनाने को लेकर कोशिशें तेज करने के बाद अब Apple आदि जैसी कंपनियों के साथ ही साथ इनकी साझेदारी मैन्युफ़ैक्चरिंग कंपनियों ने भी भारत का रूख किया है।

हालाँकि एक बात यह भी है कि भारत और चीन के विवाद से पहले भी बीजिंग और वाशिंगटन और बाद में कोरोनावायरस संकट के बीच छिड़ा व्यापार युद्ध भी इन कदमों की नींव रखने लगा था।

Reuters की एक रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से यह सामने आया है कि Apple सहित Foxconn के अन्य कई क्लाइंट ने कंपनी से मैन्युफ़ैक्चरिंग का एक बड़ा हिस्सा चीन के बाहर शिफ़्ट करने का अनुरोध किया है।

इस बीच सूत्रों के ही हवाले से यह भी सामने आया है कि Foxconn भारत में स्थित अपने Sriperumbur प्लांट में ही निवेश कर उसका विस्तार कर सकता है। यह प्लांट चेन्नई से क़रीब 50 किमी दूर है और यहाँ मुख्यतः iPhone XR की मैन्युफ़ैक्चरिंग का काम होता है।

इसके साथ ही कहा जा रहा है कि इस निवेश के साथ Foxconn असल में भारत में ही अन्य कई iPhone मॉडल्स का निर्माण शुरू कर सकता है।

रिपोर्ट की मानें तो Foxconn के इस सम्भावित क़दम से तमिलनाडु राज्य के कंपनी के प्लांट में क़रीब 6,000 नई नौकरियों पैदा हो सकती हैं। आपको बता दें कंपनी दक्षिणी भारतीय राज्य आंध्र प्रदेश में एक अलग प्लांट भी संचालित करती है।

See Also
upsc-coaching-allahabad-university-fees-will-be-credited-to-students-account

इसकी अटकलें इतने दावे के साथ इसलिए भी लगाई जा रहीं हैं क्योंकि कुछ ही समय पहले Foxconn के Liu Young-way ने कहा था कि कंपनी भारत में और अधिक निवेश करते हुए अपना विस्तार करेगी। हालाँकि उस वक़्त भी उन्होंने इस संभावित निवेश को लेकर कोई अन्य विवरण साझा नहीं किया था।

दरसल भारत ख़ुद भी Foxconn आदि जैसी फर्मों के ज़रिए इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफ़ैक्चरिंग क्षेत्र को तेज़ी से बढ़ावा  देने की दिशा में काम कर रहा है। पिछले महीने $6.65 बिलियन की योजना भी शुरू की गई, जिसके तहत घरेलू उत्पादन को स्थापित करने और उसक विस्तार करने के लिए पांच वैश्विक स्मार्टफोन निर्माताओं को कई प्रोत्साहन भी दिए गये।

और कुछ समय से ही Apple द्वारा भारत में स्थानीय उपस्थिति को बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रमुख “मेक इन इंडिया” योजना का हिस्सा बनने की ख़बरें पहले से ही प्रमुखता से सामने आ रहीं थीं, और अब Foxconn से जुड़ी यह ख़बर शायद उसी दिशा में बढ़ते क़दम हैं।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.