Now Reading
ISRO के ‘गगनयान मिशन’ के लिए 4 अंतरिक्ष यात्रियों के नाम का ऐलान, जानें कौन-कौन शामिल?

ISRO के ‘गगनयान मिशन’ के लिए 4 अंतरिक्ष यात्रियों के नाम का ऐलान, जानें कौन-कौन शामिल?

  • इसरो के 'गगनयान मिशन' के लिए 4 अंतरिक्ष यात्रियों का चयन
  • प्रधानमंत्री मोदी ने चारों को ‘अंतरिक्ष यात्री पंख’ भी प्रदान किए
4-astronauts-selected-for-isro-gaganyaan-mission

4 Astronauts Selected For ISRO Gaganyaan Mission: आखिरकार! भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो (ISRO) के आगामी गगनयान मिशन के लिए चुने गए 4 अंतरिक्ष यात्रियों के नाम का ऐलान कर दिया गया है। पीएम नरेंद्र मोदी ने विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र में इसकी घोषणा की है। बता दें गगनयान मिशन भारत का पहला अंतरिक्ष मानव मिशन होगा।

इन 4 अंतरिक्ष यात्रियों के नाम ग्रुप कैप्टन प्रशांत नायर, ग्रुप कैप्टन अजीत कृष्णन, ग्रुप कैप्टन अंगद प्रताप और विंग कमांडर शुभांशु शुक्ला है। इस ऐलान के साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने इन चारों को ‘अंतरिक्ष यात्री पंख’ भी प्रदान किए। इतना ही नहीं बल्कि पीएम मोदी ने तिरुवनंतपुरम के पास थुंबा में विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र की विजिट के दौरान भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) की तीन प्रमुख परियोजनाओं का उद्घाटन भी किया।

4 Astronauts Selected For ISRO Gaganyaan Mission

सामने आ रही जानकारी के अनुसार, जिन चार लोगों का चयन किया गया है, वह फिलहाल बेंगलुरु में अंतरिक्ष यात्री प्रशिक्षण सुविधा में ट्रेनिंग में रहेंगे। लेकिन मंगलवारवो वह सभी तिरुवनंतपुरम के विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र में उपस्थित रहे। यहाँ पर प्रधानमंत्री मोदी ने सभी से मुलाक़ात की और देश व दुनिया के सामने चारों के नाम का खुलासा किया।

कुछ समय पहले से भी यह खबरें आ रही थीं कि गगनयान के लिए सभी चयनित अंतरिक्ष यात्री पायलट होंगे। ऐसा इसलिए भी क्योंकि यह मिशन भारत का पहला मानव अंतरिक्ष मिशन है। पायलटों का चयन उनकी दक्षता और विशेषज्ञता के चलते किया गया।

See Also
kids-in-china-now-restricted-to-just-3-hours-of-online-gaming-per-week

न्यूज़North अब WhatsApp पर, सबसे तेज अपडेट्स पानें के लिए अभी जुड़ें!

देश के इस महत्वाकांक्षी गगनयान मिशन के लिए चुने गए पायलटों में केरल के ग्रुप कैप्टन प्रशांत बी. नायर भी शामिल है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इनका नाम इसलिए भी अहम हो जाता है क्योंकि वह कथित रूप से पिछले कुछ सालों से इस मिशन के लिए रूस में ट्रेनिंग ले रहे थे। फिलहाल अब वह इसरो की एक इकाई में इस मिशन की तैयारी कर रहे हैं।

कैसे हुआ चयन?

सामने आ रही जानकारी के अनुसार, गगनयान मिशन में अंतरिक्ष यात्री बनने के लिए आवेदन मँगवाए गए थे। इसमें बहुत से टेस्ट पायलटों ने अप्लाई किया था। साल 2019 में 12 लोगों का बेंगलुरु में हुए पहले चरण के चयन किया गया था। इनका चयन भारतीय वायु सेना के इंस्टीट्यूट ऑफ एयरोस्पेस मेडिसिन द्वारा किया गया था। लेकिन इसके बाद भी चयन के कई चरण पूरे किए गए, जिसके बाद आखिरकार 4 लोगों को चुना गया।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.