Now Reading
भारत ने म्यांमार सीमा पर खत्म किया FMR, आना-जाना नहीं होगा आसान, जानें क्यों?

भारत ने म्यांमार सीमा पर खत्म किया FMR, आना-जाना नहीं होगा आसान, जानें क्यों?

  • देश की आंतरिक सुरक्षा सुनिश्चित करने की ओर उठाया गया कदम.
  • "हमारी सीमाओं को सुरक्षित करना प्रधानमंत्री का संकल्प"- गृह मंत्री अमित शाह
caa-will-be-notified-before-loksabha-election-says-amit-shah

India ends FMR On Myanmar border: भारत के उत्तर पूर्वी राज्य से लगा म्यांमार देश में काफ़ी समय से स्थानीय स्तर में काफ़ी उपद्रव मचा हुआ है। म्यांमार क्षेत्र की अशांति कई बार भारतीय सीमाओं तक पहुंच जाती है, इसकी वजह भारत के पूर्वी राज्यों से लगी इसकी सीमा में दोनों ही देश के लोग 16 किमी दूरी तक क्षेत्र में आवाजाही कर सकते है।

भारत ने इस आवाजाही को बंद करने का फैसला लिया है, म्यांमार सीमा की बाड़ बंदी के बाद अब भारत के गृहमंत्रालय ने भारत और म्यांमार के बीच मुक्त आवाजाही व्यवस्था ( Free Movement Regime) को तत्काल निलंबित करने की सिफारिश की है।

गृहमंत्री अमित शाह ने इसके पीछे कारण बताते हुए कहा है, यह फैसला से देश की आंतरिक सुरक्षा सुनिश्चित करने की ओर उठाया गया कदम है। यह फैसला म्यांमार की सीमा से सटे भारतीय राज्यों में जनसांख्यिकीय संरचना को बनाए रखने के लिए म्यांमार के साथ मुक्त आवाजाही (FMR)व्यवस्था को खत्म करने का फैसला लिया गया है।

India ends FMR  Myanmar border

यह फैसला ऐसे समय में लिया गया है, जब म्यांमार में म्यांमार की सत्तारूढ़ जुंटा समर्थित सेना और मिलिशिया समूह पीपुल्स डिफेंस फोर्स के बीच संघर्ष म्यांमार से सटे भारतीय राज्यों के इलाकों तक पहुंच जाता है। हाल के समय में हिंसा प्रभावित मणिपुर में हिंसा के कारण म्यांमार से आए अवैध नागरिकों से भी जोड़ा जाता है।

इस फैसले को लेकर देश के गृह मंत्री अमित शाह ने अपने X अकाउंट से जानकारी साझा कि,

“हमारी सीमाओं को सुरक्षित करना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संकल्प है। गृह मंत्रालय ने फैसला किया है कि देश की आंतरिक सुरक्षा सुनिश्चित करने और जनसांख्यिकीय ढांचा को बनाए रखने के लिए भारत और म्यांमार के बीच मुक्त आवाजाही व्यवस्था (एफएमआर) को खत्म कर दिया गया है।”

भारत ने पहले ही म्यांमार सीमा को बाड़ बंदी करने का फैसला कर चुका है। भारत से लगी तकरीबन 1643 किमी म्यांमार की सीमा को कवर किया जाएगा साथ ही इस सीमा में सेना के ट्रकों से गस्ती भी किए जाने की बात निकलकर आई है।

केंद्र सरकार के इस फैसले का स्वागत करते हुए म्यांमार की सीमा से लगे राज्य मणिपुर के सीएम एन वीरेन ने इसके लिए केंद्र सरकार और गृह मंत्रालय का आभार जताया है।

FMR क्या है!

मुक्त आवाजाही व्यवस्था ( Free Movement Regime) एक प्रकार की दोनों देशों के बीच एक ऐसी सुविधा थी जिसमें दोनों देशों के सीमाओं के करीब रहने वाले नागरिक बिना किसी दस्तावेज के एक दूसरे देश की सीमा में 16 किमी तक बिना किसी रोक टोक के आ जा सकते थे। इसमें भारत का मिजोरम, मणिपुर, नगालैंड और अरुणाचल प्रदेश में मुक्त आवाजाही व्यवस्था लागू थी, जिसे 2018 में भारत की एक्ट ईस्ट नीति के हिस्से के रूप में लागू किया गया था।

न्यूज़North अब WhatsApp पर, सबसे तेज अपडेट्स पानें के लिए अभी जुड़ें!

हाल के समय में इस प्रकार की सुविधा से भारत की आंतरिक सुरक्षा को लेकर कई परेशानियों का सामना करना पड़ा जिसके बाद भारत सरकार ने म्यांमार सीमा को बाड़ बंदी करने का फैसला लिया उसके दो दिन पश्चात ही गृह मंत्रालय ने एफएमआर को भी बंद करने की घोषणा कर दी।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.