Now Reading
Apple Saket: दिल्ली में खुला देश का दूसरा ‘एप्पल स्टोर’, जानें क्या-क्या है खास?

Apple Saket: दिल्ली में खुला देश का दूसरा ‘एप्पल स्टोर’, जानें क्या-क्या है खास?

apple-saket-delhi-store-launched-by-tim-cook

Apple Saket (Delhi) Store: टेक दिग्गज एप्पल (Apple) ने भारतीय बाजार में अपने 25 साल पूरे कर लिए हैं। और अपनी 25वीं वर्षगांठ के जश्न के रूप में Apple ने भारत में पहली बार अपने रिटेल स्टोर्स भी खोले हैं। इस मौके पर खुद कंपनी के सीईओ टिम कुक (Tim Cook) इन दिनों भारत आए हुए हैं।

अपने इस दौरे के तहत कल टिम बुक ने भारत के प्रधानमंत्री, नरेंद्र मोदी से भी मुलाकात की। बीतें दिनों देश की आर्थिक राजधानी कहे जाने वाली मुंबई में Apple BKC स्टोर को लॉन्च करने के बाद आज टिम कुक ने राजधानी दिल्ली में देश के दूसरे एप्पल स्टोर – Apple Saket का उद्घाटन किया है।

बता दें दिल्ली में Apple ने अपना यह रिटेल स्टोर साकेत स्थित सिटी वॉक मॉल (City Walk Mall) में खोला है। मुंबई की तरह ही दिल्ली वालों के बीच भी Apple Store को लेकर काफी उत्साह देखनें को मिला। ओपनिंग से पहले ही स्टोर के बाहर लोगों की लंबी लाइनें लग गई।

लोग एप्पल रिटेल स्टोर की पहली झलक देखने और कंपनी के सीईओ टिम कुक से मिलने का बेसब्री से इंतजार करते नजर आए। टिम ने भी लोगों को निराश ना करते हुए, स्टोर का उद्घाटन करने के बाद तमाम लोगों से मुलाकात की।

दिल्ली के एप्पल साकेत स्टोर में भी आपको मुंबई स्टोर की तर्ज पर Apple के तमाम प्रोडक्ट्स जैसे iPhones, Mac, iPad, AirPods, HomePads, Apple Watch, AirTag और Apple TV आदि को खरीदने या अनुभव करने की सुविधा दी जा रही है।स्टोर में सभी प्रोडक्ट के एक्सपर्ट भी होगे, जो आपको Apple प्रोडक्ट्स के बारे में जानकारी प्रदान करने का काम करेंगे।

इसके साथ ही इस स्टोर पर आप अपने आईफोन की सेटिंग से लेकर, एप्पल आईडी रीकवरी या फिर अन्य तमाम समस्या का समाधान भी करवा सकेंगे। इस स्टोर में आपको किसी प्रोडक्ट को रिपेयर भी करवाने की सहूलियत दी जाएगी।

क्या है Apple Saket और Apple BKC के बीच फर्क?

शुरुआत की जाते आकार से तो Apple Saket का साइज कंपनी के मुंबई वाले स्टोर के मुकाबले काफी कम कहा जा सकता है। असल में Apple Saket जहाँ लगभग 8,500 स्क्वायर फीट में फैला हुआ है, वहीं Apple BKC का आकार 20 हजार स्क्वायर फीट के करीब है।

apple-saket-delhi-store-launched-by-tim-cook

लेकिन दिलचस्प बात यह है कि आकार में इतना अंतर होने के बाद भी, इन दोनों स्टोर्स का किराया लगभग एक समान ही है। जी हाँ! रिपोर्ट्स के अनुसार, कंपनी अपने दिल्ली स्टोर के लिए किराए के रूप में ₹40 लाख प्रति माह का भुगतान कर रही है, वहीं मुंबई वाले स्टोर के लिए किराए के रूप में इसको हर महीने ₹42 लाख देने होंगे।

See Also
google-launches-android-earthquake-alerts-in-india

कंपनी ने दिल्ली स्थित इस स्टोर को भारतीय कला से सजाने का प्रयास किया है। स्टोर में आपको कई गेट देखने को मिलते हैं, और हर एक गेट में दिल्ली शहर के अलग-अलग इतिहास को दर्शाने का काम किया गया है।

Apple के मुंबई बीकेसी आधारित स्टोर में लगभग 100 कर्मचारी हैं, वहीं दिल्ली के इस साकेत स्टोर में कंपनी ने 70 कर्मचारियों की नियुक्ति की है। दोनों ही स्टोर्स में महिला कर्मचारियों प्रतिनिधित्व भी व्यापक रूप से है।

क्यों अलग होते हैं Apple Stores?

वैसे तो भारत में पहले से ही Apple अधिकृत (ऑथराइज्ड) स्टोर्स मौजूद हैं, लेकिन Apple Stores इनसे काफी अलग है। सबसे पहले तो Apple अधिकृत स्टोर थर्ड पार्टी के होते हैं, लेकिन Apple Stores पर कंपनी का ही मालिकाना हक होता है।

कंपनी अपने अनुसार, पूरी तरह से इनको कंट्रोल करती है। इन स्टोर्स में आपको सिर्फ Apple के ही प्रोडक्ट्स मिलते हैं, जबकि ऑथराइज्ड स्टोर में अन्य कंपनियों के कुछ प्रोडक्ट्स भी मिल जाते हैं। इन स्टोर्स पर आप कंपनी के किसी प्रोडक्ट को एक्सचेंज करने की भी सुविधा पा सकते हैं। स्टोर्स में कई भाषाएँ बोलने वाले कर्मचारी भी मौजूद होते हैं।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.