Now Reading
OpenAI का ‘ChatGPT Plus’ सब्सक्रिप्शन GPT-4 के साथ भारत में हुआ लॉन्च

OpenAI का ‘ChatGPT Plus’ सब्सक्रिप्शन GPT-4 के साथ भारत में हुआ लॉन्च

sam-altman-to-invest-in-india-meet-pm-modi

OpenAI launches ChatGPT Plus subscription in India (Price): टेक कंपनियों के लिए भारत दुनिया के कुछ अहम बाजारों में से एक बन चुका है। बड़ी बड़ी कंपनियाँ भी शुरुआत से ही भारत में अपना प्रोडक्ट या सेवाएँ पेश करने के लिए बेसब्र नजर आती रहती हैं। और आजकल काफी चर्चा में बनी हुई OpenAI ने एक बार फिर इस बात को सच साबित कर दिया है।

असल में OpenAI ने अपने टेक्स्ट-जनरेटिंग एआई टूल को एक्सेस कर सकने के लिए, पेश किए गए ‘ChatGPT Plus’ सब्सक्रिप्शन को भारत में लॉन्च कर दिया है।

OpenAI की ओर से इसका ऐलान करते हुए, यह भी बताया गया है कि कंपनी की यह प्रीमियम सब्सक्रिप्शन सर्विस, कुछ दिन पहले पेश किए गए, GPT-4 वर्जन लैंग्वेज मॉडल पर आधारित है।

openai-gpt-4-vs-chatgpt

आपको बता दें GPT-4 के तहत पेश किए गए सभी नए फीचर्स को सिर्फ ChatGPT Plus सब्सक्रिप्शन के तहत ही इस्तेमाल किया जा सकता है। और इसलिए कंपनी के मुताबिक, भारतीय ग्राहक आज से ही सब्सक्रिप्शन के माध्यम से GPT-4 तक पहुँच हासिल कर सकते हैं।

जाहिर है ChatGPT Plus सब्सक्रिप्शन में ChatGPT के फ्री वर्जन से कहीं अधिक बेहतरीन फीचर्स हैं, जो इसके इस्तेमाल को और अधिक आसान व रोचक बना देते हैं। ये सब्सक्रिप्शन प्लान सबसे पहले, इसी साल फरवरी में अमेरिका में पेश किया गया था।

ChatGPT Plus Subscription Price in India: क्या है कीमत? 

फिलहाल OpenAI ने ‘ChatGPT Plus’ सब्सक्रिप्शन को $20 (लगभग ₹1650) प्रति महीनें की कीमत पर पेश किया है। अमेरिका में भी इसको इसी कीमत पर पेश किया गया था।

इसलिए हम कह सकते हैं कि भले OpenAI ने इस सब्सक्रिप्शन प्लान को भारत में पेश कर दिया है, लेकिन कीमतों के नजरिए से भारतीय बाजार को देखते हुए, कोई बदलाव नहीं किया है।

See Also
whatsapp-screen-sharing-feature

क्या होगा लाभ?

इस सब्सक्रिप्शन के साथ, यूजर्स को अत्यधिक उपयोग यानी पीक-टाइम के दौरान भी सहूलियत के साथ ChatGPT का इस्तेमाल करने की इजाजत मिलती है। और जाहिर तौर पर नए फीचर्स को लेकर प्रीमियम यूजर्स को प्राथमिकताएँ दी जाती हैं। इतना ही नहीं बल्कि चैटबॉट का रिस्पांस टाइम भी हैरान करने वाले ढंग से काफी तेज हो जाता है।

इस बीच, OpenAI के ट्वीट को, खुद कंपनी के CEO सैम ऑल्टमैन ने रिट्वीट करते हुए, भारतीय बाजार के प्रति अपने उत्साह को जाहिर किया।

गौर करने वाली बात ये भी है कि, कुछ ही दिनों पहले सामने आई खबरों के मुताबिक, OpenAI, ट्विटर के प्रतिद्वंदी, भारतीय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म Koo के साथ मिल्कर भी काम कर रहा है, जिसके तहत Koo में कुछ एआई फीचर्स शामिल किए जा सकते हैं।

वैसे अगर आप चाहें तो मुफ्त में भी GPT-4 का इस्तेमाल कर सकते हैं। असल में Microsoft के अनुसार, Bing Chat अब GPT-4 पर ही काम करता है, जो भारत में पूरी तरह से फ्री है।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.