Now Reading
सरकार ने छात्रों के लिए लॉन्च किया ‘NEAT 3.0’, बेहतर एड-टेक सामाधन प्रदान करना लक्ष्य

सरकार ने छात्रों के लिए लॉन्च किया ‘NEAT 3.0’, बेहतर एड-टेक सामाधन प्रदान करना लक्ष्य

indian-got-launches-neat-3-0-to-provide-best-developed-ed-tech-solution

भारत सरकार के शिक्षा और कौशल विकास मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने देश के छात्रों को सर्वोत्तम विकसित एड-टेक समाधान और पाठ्यक्रम प्रदान करने के लक्ष्य के साथ शनल एजुकेशनल अलायन्स फॉर टेक्नोलॉजी 3.0 (NEAT 3.0) प्लेटफ़ॉर्म को लॉन्च किया है।

मंत्रालय ने अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (AICTE) व एड-टेक (ed-tech) कंपनियों के साथ भागीदारी करते हुए इस पहल की शुरुआत की है। इसके तहत अनेक क्षेत्रीय भाषाओं में AICTE द्वारा निर्धारित तकनीकी पाठ्यक्रम आधारित पुस्तकों को भी लॉन्च किया गया है।

ऐसी तमाम ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए जुड़ें हमारे टेलीग्राम चैनल से!: (टेलीग्राम चैनल लिंक)

शिक्षा मंत्रालय और एआईसीटीई की ओर से पेश किए गई इस पहल को लेकर शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान (Dharmendra Pradhan) ने कहा;

“नेशनल एजुकेशनल अलायन्स फॉर टेक्नोलॉजी (NEAT) देश के छात्रों को दिए जा रहे सबसे बड़े उपहारों में से एक है।”

“ये असल में देश भर में शिक्षा क्षेत्र में पनपे डिजिटल डिवाइड को पाटने और विशेष रूप से आर्थिक रूप से वंचित छात्रों को सशक्त बनाने की एक पहल है। यह उनके लिए भारत और दुनिया भर से पढ़ाई/ज्ञान-आधारित आवश्यकताओं को पूरा करने की दिशा में एक गेम-चेंजर क़दम साबित होगा।”

क्या है NEAT 3.0?

आपको बता दें शिक्षा मंत्रालय (MoE) ने जनवरी, 2020 को एक ओपन इन्वाइट और स्क्रीनिंग के ज़रिए AICTE और भारत की एड-टेक कंपनियों को साथ लाकर एक पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप (PPP) मॉडल के रूप में नेशनल एजुकेशनल अलायन्स फॉर टेक्नोलॉजी (National Educational Alliance for Technology या ‘NEAT’) की शुरुआत की थी।

नेशनल एजुकेशनल एलायंस फॉर टेक्नोलॉजी (NEAT) का मक़सद छात्रों की सुविधा के लिए शिक्षा क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ तकनीकी उत्पादों को एक मंच पर लाने का है।

neat-3-0-to-provide-best-developed-edtech-solution
Credit: NEAT (AICTE)

बेहतरीन लर्निंग या ई-कंटेंट के लिए प्लेटफ़ॉर्म आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का उपयोग करके पर्सनलाइज्ड या कस्टमाइज्ड समाधानों को पेश करता है, ताकि चुनिंदा क्षेत्रों मे कौशल (Skills) हासिल कर छात्रों की रोज़गार पाने की संभावना बढ़ सकें।

मंत्रालय की ओर से ये भी बताया गया कि इस पहल के लिए 58 वैश्विक और भारतीय एड-टेक कंपनियों/स्टार्टअप्स को साथ में जोड़ा गया है, जो NEAT पर 100 से अधिक पाठ्यक्रम और ई-रिसोर्स मुहैया करवा रहें हैं।

See Also
google-gemini-ai-app-launched

करने के लिए पहचाना जाएगा. एनईएटी पोर्टल के माध्यम से बेचे जाने वाले 25% पाठ्यक्रम एडु-टेक कंपनियों में शामिल हैं जो सामाजिक और आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों को मुफ्त में प्रदान किए जा रहे हैं.

असल में शिक्षा क्षेत्र में सर्वोत्तम विकसित तकनीकी समाधानों का इस्तेमाल करके छात्रों को ज़रूरतों को पूरा करते हुए उनकी रोजगार क्षमता को बढ़ाने में कारगर साबित होगा।

Get free ed-tech course coupons on NEAT 3.0

NEAT पोर्टल के माध्यम से बेचे जाने वाले आधिकांश पाठ्यक्रम इन्हीं एड-टेक कंपनियों के हैं, जो मुख्यतः आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों को मुफ्त में प्रदान किए जा रहे हैं।

शिक्षा मंत्री ने मुताबिक़ अब तक 12 लाख से अधिक सामाजिक और आर्थिक रूप से वंचित छात्रों को NEAT 3.0 के तहत ₹253.72 करोड़ से अधिक के मुफ्त एड-टेक कोर्स कूपन प्रदान किए गए हैं। इन फ्री कूपन्स को NEAT पोर्टल के जरिए ही बाँटा जा रहा है। शिक्षा मंत्री ने कहा;

“AICTE और एड-टेक कंपनियों को कम से कम लागत पर सभी संभव ई-लर्निंग रिसोर्स उपलब्ध करवाने चाहिए। शिक्षा को सुलभ और सस्ता बनाने के इस दृष्टिकोण के साथ काम करने के लिए सभी एड-टेक कंपनियों का स्वागत है। लेकिन एड-टेक कंपनियों को ये भी याद रखना चाहिए कि इस क्षेत्र में एकाधिकार व शोषण के लिए कोई जगह नहीं है।”

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.