Now Reading
दिल्ली मेट्रो ने QR आधारित कांटैक्टलेस टिकटिंग सेवा अपनाने के लिए स्टार्टअप्स को भेजा बोली लगाने का आमंत्रण

दिल्ली मेट्रो ने QR आधारित कांटैक्टलेस टिकटिंग सेवा अपनाने के लिए स्टार्टअप्स को भेजा बोली लगाने का आमंत्रण

you-can-use-one-same-card-for-noida-metro-and-delhi-metro

कोरोना महामारी के चलते दुनिया के साथ ही साथ देश में सोशल डिस्टेंसिंग और कांटैक्टलेस पेमेंट अब सामान्य व आम जीवन का हिस्सा बनते जा रहे हैं। और अब इसको लेकर ही दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) ने एक बड़ा ऐलान किया है।

असल में हाल ही में दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) ने घोषणा की कि वह टिकटों की बुकिंग के लिए क्विक रिस्पॉन्स (QR) कोड सिस्टम को अपनाने का मन बना रही है।

ख़ास ये है कि अपनी इस योजना के लिए दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (DMRC) ने निजी कंपनियों और स्टार्टअप्स को कांटैक्टलेस टिकटिंग सिस्टम के लिए बोली लगाने के लिए आमंत्रित किया है।

ईटी की एक रिपोर्ट के मुताबिक़ DMCR के कार्यकारी निदेशक ने बताया कि संस्था अपनी मौजूदा स्वचालित किराया प्रणाली को अपग्रेड करने के लिए QR कोड स्टिकर, EMV (Europay, MasterCard, और Visa) आधारित टिकट प्रणाली और RuPay आधारित पेमेंट सिस्टम को अपनाने की कोशिश कर रही है।

इस अपग्रेड को National Common Mobility Card (NCMC) मानक मॉडल के अनुरूप होना चाहिए, जैसा कि आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा निर्दिष्ट किया गया है, ताकि ये तकनीक सभी दिल्ली मेट्रो स्टेशनों और इससे संबंधित सुविधाओं जैसे ऑपरेटर, रिटेल आउटलेट और पार्किंग आदि से साथ समायोजित की जा सकें।

असल में इस पहल को “वन नेशन वन मोबिलिटी” या NCMC की तर्ज़ पर भी देखा जा सकता है, जिसके तहत पिछले साल दिसंबर में कई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों पर भारतीय नागरिकों को कांटैक्टलेस पेमेंट सुविधा प्रदान करने की शुरुआत की गई थी।

See Also
google-to-bring-circle-to-search-feature-to-pc-via-chrome-update

नई दिल्ली, बेंगलुरु, मुंबई और अन्य शहरों में हवाई अड्डे इस तकनीकी-आधारित सोल्यूशन को शामिल कर चुके हैं।

आपको याद होगा कि दिल्ली मेट्रो पिछले साल अप्रैल से लगभग छह महीने तक महामारी के चलते बंद रही थी। जिसके बाद सितंबर 2020 में इसका संचालन फिर से शुरू किया गया था। इसके साथ ही अधिकारियों ने एहतियात के तौर पर इसमें यात्रा करने वालों के लिए Aarogya Setu ऐप को अनिवार्य कर दिया था, और साथ ही अन्य उपाय जैसे फेस मास्क, तापमान की जांच और हाथ के सैनिटाइजर का उपयोग आदि को भी अपनाया था।

आपको बता दें महामारी के पहले ही DMRC ने Maxima Digital और Techno Sat Comm Consortium के साथ एक डील साइन की थी, जिसके तहत इसने दिल्ली मेट्रो ट्रेनों में हाई-स्पीड इंटरनेट देने का मन बनाया था, जो भारत में अपने तरह की पहली पहल बनी थी।

©प्रतिलिप्यधिकार (Copyright) 2014-2023 Blue Box Media Private Limited (India). सर्वाधिकार सुरक्षित.